DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

िमलेगा 11 माह का लिंबत वेतन

रांची ’ हिन्दुस्तान ब्यूरोअल्पसंख्यक शिक्षाकर्मियों का 11 माह से वेतन का इंतजार अब खत्म हो गया है। एचआरडी ने वेतन के लिए 49.95 करोड़ की राशि निर्गत कर दी है। जिलावार राशि का आवंटन किया गया है। निदेशक ममता ने एक सप्ताह में वेतन देने का निर्देश दिया है। साथ ही 31 मार्च तक उपयोगिता प्रमाण पत्र भी मांगा गया है। राज्य के 987 प्राथमिक और अल्पसंख्यक हाई स्कूलों के 9500 शिक्षाकर्मियों का वेतन लंबित है।अब लंबित नहीं रहेगा वेतनशिक्षाकर्मियों को एक राहत भी मिली है। अब वेतन के लिए फाइलों के मकड़जाल में ज्यादा उलझना नहीं पड़ेगा। वेतन के लिए वित्त विभाग से परमिशन की जरूरत नहीं होगी। वित्त विभाग ने इसे लेकर पत्र एजी को भेजा है। इसमें है कि स्वीकृत योजनाओं के लिए आदेश लेने की जरूरत नहीं है। अब वेतन के लिए जिलों से उपयोगिता प्रमाण पत्र मांगा जाएगा। इसके बाद सीधे एजी को प्राधिकार पत्र के लिए एचआरडी लिखेगा। इसके बाद वेतन के लिए एलॉटमेंट सभी जिलों को भेज दिया जाएगा। इधर, एचआरडी ने भी उपयोगिता प्रमाण पत्र में विलंब नहीं करने का निर्देश सभी डीइओ को दिया है।आवंटित राशि से 12 माह का वेतनजिलावार आवंटित की गई राशि से 12 महीने का वेतन भुगतान हो सकेगा। रांची को 12.27 करोड़, 3.36 करोड़, 1.01 करोड़, गुमला 6.65 करोड़, सिमडेगा 5.80 करोड़, प सिंहभूम 3.08 करोड़, पूर्वी सिंहभूम आठ करोड़ शामिल हैं।राशि निर्गत की जा चुकी है। साथ ही सभी डीइओ को एक सप्ताह में वेतन भुगतान का निर्देश भी दिया गया है।’ 9500 शिक्षकों के लिए 49.95 करोड़, राज्य के 987 स्कूलों के 9500 कर्मियों को वेतन’ एक सप्ताह में वेतन भुगतान का निर्देश, 31 मार्च तक मांगा गया उपयोगिता प्रमाण पत्र

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:िमलेगा 11 माह का लिंबत वेतन