फिक्सिंग मामले में दोषी ठहराये जाने को चुनौती देंगे आसिफ - फिक्सिंग मामले में दोषी ठहराये जाने को चुनौती देंगे आसिफ DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फिक्सिंग मामले में दोषी ठहराये जाने को चुनौती देंगे आसिफ

जेल की सजा काट रहे पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद आसिफ के वकीलों ने स्पॉट फिक्सिंग मामले में उन्हे दोषी ठहराने को चुनौती देने की तैयारी कर ली है और अगर वे सफल रहते हैं तो इस क्रिकेटर की जेल से रिहाई हो सकती है।
    
साउथवर्क क्राउन कोर्ट ने धोखाधड़ी की साजिश रचने और गत तरीके से धनरशि स्वीकार करने की के आरोपों में आसिफ को एक साल की सजा सुनाई थी। पाकिस्तान के पूर्व टेस्ट कप्तान सलमान बट को भी इन्हीं आरोपों के लिए 30 महीने की जेल की सुनाई गई।
    
इस मामले में सजा पाने वाले तीसरे आरोपी 19 वर्षीय मोहम्मद आमिर को उनकी कम उम्र के कारण युवा हिरासत और सुधार केंद्र में भेज गया है। बट और आमिर ने अपनी सजा के खिलाफ अपील की योजना बनाई है लेकिन आसिफ ने खुद को दोषी ठहराये जाने को ही चुनौती देने का फैसला कर लिया है और उनके वकीलों का कहना है कि उनके पास से कभी कोई धनराशि नहीं मिली।
    
आसिफ की कानूनी टीम के एक प्रतिनिधि के हवाले से ईएसपीएन क्रिकइंफो ने कहा कि हम सजा नहीं बल्कि दोषी ठहराये जाने के खिलाफ अपील की योजना बना रहे हैं। वेबसाइट ने कहा कि उनका मानना है कि जो साक्ष्य मौजूद थे उनके आधार पर आसिफ को दोषी ठहराना जूरी के अधिकार क्षेत्र में नहीं था। इस अपील के अगले सात दिन में दायर किए जाने की उम्मीद है। 
     
आसिफ को पिछले साल इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स टेस्ट में जानबूझकर नोबॉल फेंकने का दोषी पाया गया था। उन्होंने सट्टेबाज मजहर मजीद से पैसे लेकर यह काम किया था। मजीद को 32 महीने जेल की सजा सुनाई गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फिक्सिंग मामले में दोषी ठहराये जाने को चुनौती देंगे आसिफ