DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शशि हत्याकाण्डः आनंदसेन के लिए अमंगल रहा मंगल

फैजाबाद अलमदारआब्दी। दलित छात्रा शिश हत्याकाण्ड में मुल्जिम बसपा विधायक आनंदसेन यादव के लिए शिनवार और मंगलवार का दिन अशुभ रहा। शनिवार के दिन उन्हें 14 जून 2008 को लखनऊ में गिरफ्तार किया गया था। करीब चार से जेल में निरुद्ध आनंदसेन को 17 मई 2011 के दिन उम्रकैद की सजा सुननी पड़ी।

मंगलवार को आया फैसला सेन पिरवार के लिए अमंगलकारी रहा। इस हाईप्रोफाइल कांड में करीब चार वर्ष जेल में बिता चुके बसपा विधायक के लिए मंगलवार का दिन अमंगलकारी रहा। उन्हें दिलत छात्रा शिश के अपहरण और हत्याकाण्ड में आजीवन कारावास की सजा हो गई।

मंगलवार को एससी/एसटी कोर्ट से फैसला आने से पूर्व बसपा विधायक व पूर्व मंत्री आनंदसेन यादव व उनके समर्थकों के चेहरे पर बेचेनी थी। पूर्वाह्न् पौने 12 बजे ही आनंदसेन यादव जेल से अदालत लाए गए। फैसला भोजनावकाश के बाद आना था। इसिलए पुलिस अभिरक्षा में यादव दीवानी पुलिस चौकी के निकट एक स्थान पर बैठ गए।

समर्थकों व मीडिया से घिरे आनंदसेन भीषण उमस और गर्मी के कारण सर से पैर तक पसीने-पसीरे थे। उनके समर्थक अंगोछे व दफ्ती से विधायक को हवा देते रहे। दूसरी ओर बसपा विधायक आनंदसेन के पिता व सपा नेता पूर्व सांसद मित्रसेन यादव शहीद भवन नाका पर फैसले की घड़ी का बेसब्री से इंतजार करते रहे।

शहीद भवन से ही मित्रसेन अपने खास लोगों के मोबाइल से लगातार पल-पल की खबर लेते रहे। फैसले के समय कोर्ट पिरसर में मौजूद सपा नेता रामप्रकाश यादव भी सांसद से लगातार सम्पर्क बनाए रहे। ज्यों-ज्यों फैसले की घड़ी नजदीक आ रही थी समर्थकों की बेचैनी बढ़ती जा रही थी। अपराह्न् दो बजे के बाद कोर्ट में तीनो अभियुक्तों आनंदसेन यादव, सीमा आजाद व विजय सेन को बुलाया गया।

थोड़ी देर बाद यह सूचना आई कि तीनो आरोपितों के विरुद्ध दोष सिद्ध हो गया है। अपराह्न् करीब चार बजे फैसला भी आ गया। उन्हें कुछ पल अपनों का साया तो मिला लेकिन शाम होते-होते शिश हत्याकाण्ड के काले साये ने उन्हें पूरी तरह जकड़ लिया। फैसला सुनकर अचिंभत आनंदसेन व उनके समर्थकों के चेहरे मायूस हो गए। फैसले के वक्त आनंदसेन यादव उम्रकैद की सजा सुनने के बाद अवाक दिखे।

हाईकोर्ट में अपील करेंगे आनंदसेन

फैजाबाद। साकेत महाविद्यालय की दलित छात्रा शिश हत्याकाण्ड में आरोपित बसपा विधायक आनंदसेन यादव सहित तीन आरोपितों को एससी/एसटी कोर्ट से मंगलवार को उम्रकैद की सजा से दिण्डत किया गया। आनंदसेन यादव के नजदीकी लोगों के अनुसार अदालत के इस फैसले के खिलाफ आनंदसेन यादव इसी सप्ताह हाईकोर्ट में अपील दायर करेंगे।

विधायक यादव के एक नजदीकी सहयोगी ने बताया कि फैसले की कॉपी मिलने के बाद दो-तीन दिन बाद इस फैसले के विरुद्ध हाईकोर्ट में अपील की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शशि हत्याकाण्डः आनंदसेन के लिए अमंगल रहा मंगल