DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टॉपर्स टॉकः आईआईटीयन बनने का है सपना

हिन्दुस्तान प्रितिनिध/ अभिषेक कुमार पटना। आईआईटीयन बनकर बिहार का नाम रौशन करने का सपना है। अभी तो स्कूल में टॉप किया है पर मिंजल दूर है। मुझे टॉप होने की सूचना सबसे पहले स्कूल से मिली। यह सुनकर मैं खुशी से उछल पड़ी और कहने लगी- आई एम दी बेस्ट एंड माई स्कूल इज दी बेस्ट।

यह उद्गार थे श्रीइशिता के। उसने आईसीएसई बोर्ड में दसवीं कक्षा में 97.8 अंक प्राप्त किए हैं। राजधानी के इंटरनेशनल स्कूल की छात्रा श्रीइशिता कहती है कि मेरा चयन सुपर 30 में भी हो गया है। मंगलवार को ही दाखिला करा कर आ रही हूं। एक मई को टेस्ट हुआ था और 12 मई को रिजल्ट घोषित किया गया था। आनंद सर का काफी नाम है।

यहां पढ़ाई करने के बाद सफलता मिलने की पूरी उम्मीद है। परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए बारह घंटे तक पढ़ाई करती थी। वह कहती हैं कि अच्छी तरह से मेहनत करने वालों को सफलता मिल ही जाती है। इस सफलता में पापा-मम्मी का बड़ा योगदान है। वे हमेशा मेरा हौसला आगे बढ़ाते रहते हैं।

पापा अनिल गुप्ता और माता अनीता गुप्ता भी बेटी की सफलता से काफी खुश है। वह कहते हैं बेटी नेजिंतनी मेहनत की थी उसका फल मिल गया। आजकल बेटा और बेटी में कोई अंतर नहीं है। मेरी बेटी शुरू से ही पढ़ने में काफी अच्छी है। इसके सपने को पूरा करने के लिए हर तरह के तकलीफ सहने को तैयार हूं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:टॉपर्स टॉकः आईआईटीयन बनने का है सपना