DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शुरू हुई रिंग बस सेवा, महिला यात्रियों में भी उत्साह

पटना हिन्दुस्तान प्रतिनिधि। शाम को 4 बजे दानापुर बस स्टैण्ड से रिंग बस गांधी मैदान के लिए चलती है। शुरू में तो 5-7 यात्री ही बस में सवार थे लेकिन बी. एस. कॉलेज आते-आते बस की सभी सीटें फुल हो जाती हैं। बस धीरे-धीरे आगे बढ़ती है और दीघा में जब बस रुकती है तो एक यात्री कहता है- अरे शुरू हो गई रिंग बस सेवा।

फिल्मी धुनों के बीच सुहाना सफर आगे बढ़ता है। रेडियो पर एक से बढ़कर एक फिल्मी गाने सुनकर यात्री मस्त। जहां-जहां पैसेंजर मिलता है बस रुक जाती है और यात्री सवार हो जाते हैं यानी रिंग बस के लिए कोई निर्धारित स्टॉपेज नहीं है। बस में सीटें फुल रहने पर यात्री खड़े होकर भी सफर कर रहे हैं।

सोमवार को रिंग बस सेवा राजधानी में शुरू हो गई। रिंग बस को लेकर यात्रियों में काफी उत्साह था। हर 10-15 मिनट पर यात्रियों के लिए बसें उपलब्ध थीं। हालांकि दोपहर के बाद कुछ मार्गो में लोगों को बस के लिए इंतजार भी करना पड़ा। बस में यात्रियों की ठसमठस भीड़ नहीं थी और वे आराम से बैठकर यात्रा कर रहे थे।

बैठने के मामले में महिला यात्रियों को प्राथमिकता। अपने लिए आरक्षित सीटों पर सिर्फ महिलाएं ही बैठी थीं। विकलांग और वरिष्ठ नागरिक की सीटें अगर खाली रहती थीं तो उस सीट पर महिला बैठ जाती थीं। महिला स्पेशल बस को लेकर भी यात्रियों में काफी उत्सुकता थी। राजधानी में पहली बार महिला स्पेशल बसें चल रही हैं।

महिला स्पेशल बसों में पैसेंजर की संख्या कम थी। बस चालकों का कहना था कि धीरे-धीरे महिलाओं के बीच इस बस सेवा को लेकर प्रचार-प्रसार हो रहा है। बस किराया 5 से 10 रुपए है। किराया को लेकर कई यात्रियों को आपत्ति थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शुरू हुई रिंग बस सेवा, महिला यात्रियों में भी उत्साह