DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुलिसिया पिटाई से ही हुई लॉकअप में नागेन्द्र की मौत

बस्ती निज संवाददाता। दुबौलिया थाने में पुलिसिया पिटाई से रविवार को हुई युवक की मौत के मामले में एक दरोगा सहित पांच पुलिस कर्मियों के खिलाफ हत्या का मामला बस्ती कोतवाली में दर्ज किया गया है। दुबौलिया थाने के इन पुलिस कर्मियों ने लॉकअप में एक युवक को इतना पीटा कि उसकी मौत हो गई।

जिलाधिकारी ने सोमवार को इस मामले में मजिस्ट्रेटी जांच बैठा दी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार नागेन्द्र सिंह की मौत अत्यधिक चोट लगने से हुई है। दुबौलिया थाना क्षेत्र के विशुनपुरदास निवासी 30 वर्षीय युवक नागेन्द्र सिंह उर्फ झिनकनू सिंह का पोस्टमार्टम रविवार की रात 11 बजे पूरा हुआ। पुलिस कर्मियों के दबाव में परिजनों ने रात में ही शव का अन्तिम संस्कार कर दिया।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार नागेन्द्र सिंह की मौत चोट लगने से हुई है। पैर की उंगलियों में पिटाई के निशान पाए गए। सीने की कई हड्डियां टूटी मिलीं। शरीर के भीतरी भाग में बहुत रक्तस्रव पाया गया। आन्तरिक चोटों के चलते उसकी मौत हो गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने दुबौलिया पुलिस की उस कहानी को झूठा ठहरा दिया, जिसमें कहा गया था कि नागेन्द्र की मौत थाने की लॉकअप में फांसी लगा लेने से हुई।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद डीएम सुशील कुमार ने सोमवार को मामले की मजिस्ट्रेटी जांच बैठा दी। जांच अधिकारी एसडीएम र्हैया महेश चन्द्र शर्मा को बनाया गया है। डीएम ने उन्हें एक माह के भीतर रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है। उन्होंने जिले के पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया है कि पूरे प्रकरण की जांच निष्पक्षता से की जाए।

कोतवाली पुलिस ने नागेन्द्र सिंह के भतीजे रजनीकान्त सिंह निवासी विशुनदासपुर की तहरीर पर एक उपनिरीक्षक तथा चार कान्सटेबल के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। इन पर सामूहिक रूप से घर में घुसकर बेंत से मारने तथा हत्या कर देने का आरोप है। अज्ञात पुलिस कर्मियों के विरुद्ध धारा 147, 452 तथा 302 भादवि दर्ज है। दूसरी तरफ, दुबौलिया पुलिस ने नागेन्द्र सिंह के विरुद्ध दर्ज मुकदमे के सिलसिले में उसके साथ गायब हुई युवती का स्वास्थ्य परीक्षण कराया।

जिला महिला अस्पताल के चिकित्सकों ने उसके स्वास्थ्य का परीक्षण किया और आयु निर्धारण के लिए जिला अस्पताल बस्ती को रेफर कर दिया। पुलिस उपमहानिरीक्षक ज्ञान सिंह ने कहा कि मामले में मुकदमा दर्ज हो गया है। विवेचना के दौरान सभी तथ्य सामने आ जाएंगे। एसपी को घटना में लिप्त पाए गए सभी पुलिस कर्मियों को निलम्बित करने का निर्देश दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पुलिसिया पिटाई से ही हुई लॉकअप में नागेन्द्र की मौत