DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आज से काम करने लगेगा किसानों का अपना रेडियो

पटना (हि. ब्यू.)। किसानों का अपना रेडियो स्टेशन मंगलवार से काम करने लगेगा। राज्य में पहली बार हो रही इस अनोखी व्यवस्था की शुरुआत कल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार करेंगे। वह मुख्यमंत्री सचिवालय स्थित संवाद कक्ष से बाढ़ और समस्तीपुर के किसान रेडियो स्टेशन का उद्घाटन करेंगे।

इसी के साथ सभी जिलों के लिए 38 किसान रथों को भी मुख्यमंत्री रवाना करेंगे। रथों को पहुंचते ही 19 मई से हर प्रखंड मुख्यालय पर शुरू हो जाएगा कृषि विकास उत्सव। बाढ़ के कम्युनिटी रेडियो स्टेशन का संचालन बिहार कृषि विश्वविद्यालय सबौर करेगा तो समस्तीपुर के विरौली के स्टेशन की जिम्मेवारी राजेन्द्र कृषि विश्वविद्यालय की होगी।

दोनों रेडियो स्टेशनों से एक घंटे सुबह और एक घंटे शाम कार्यक्रम प्रसारित किये जाएंगे। इस अवधि में किसानों, महिलाओं और गांव के बच्चों के लिए कार्यक्रम होंगे। लोकगीतों के प्रसारण के लिए भी समय तय होगा। अलग-अलग स्टेशनों से अलग-अलग फसलों की जानकारी दी जाएगी। यह उस क्षेत्र में लगाई जाने वाली फसलों पर निर्भर करेगा।

खास बात यह है कि स्थानीय जरूरतों के अनुसार कार्यक्रमों में बदलाव किसानों की इच्छा के अनुसार हो सकती है। इसके लिए बनने वाली कमेटी में स्थानीय किसानों को जगह मिलेगी। उधर कृषि विकास उत्सव का कार्यक्रम मई से शुरू होगा जो दस जून तक हर प्रखंड में चलेगा। बामेति के निदेशक डा. आरके सोहाने ने बताया कि मुख्यमंत्री द्वारा कल रवना किये गये किसान रथ 19 मई को जिलों में पहुंचेंगे उसके बाद जिला मुख्यालय वाले प्रखंडों में प्रभारी मंत्री तो विधायक अपने क्षेत्र के संबंधित प्रखंड में कार्यक्रमों का उद्घाटन करेंगे।

कार्यक्रम में कृषि एवं सम्बद्ध विभागों की योजनाओं से संबंधित अनुदान के आवेदन लिये जाएंगे। पुराने मामलों पर भी विचार होगा। हर प्रखंड के कम से कम एक हजार किसानों को प्रशिक्षित करने की व्यवस्था होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आज से काम करने लगेगा किसानों का अपना रेडियो