DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुस्कान के निदेशक प्रमुख समेत 11 फरार

क्रांति कुमार पटना। बेरोजगार युवको की सहायता कर उन्हें रोजगार देने के नाम पर बहुचर्चित मुस्कान स्वयं सेवी संस्था ने 38 जिलों के सैकड़ों सीधे-साधे गरीब बेरोजगार युवकों से करोड़ों रुपये की ठगी का मामला पुलिस ने सत्य पाया। इस घटना के दो माह बीत जाने के बाद भी मुस्कान के निदेशक प्रमुख और इस मामले के मुख्य अभियुक्त डा. रुद्रदेव समेत 11 अभियुक्तों को पटना पुलिस अबतक गिरफ्तार नही कर पायी है।

इस चर्चित घटना के अनुसंधान के दौरान पुलिस को पता चला कि करोड़ों रुपए की ठगी के इस मामले में गिरफ्तार पांच लोगों के अलावे और भी लोग शामिल है। मामला गंभीर होने के कारण पटना के वरीय पुलिस अधिकारी ने पाटलिपुत्रा थाना के प्रभारी को जांच करने का निर्देश दिया है।

पुलिस ने अपने अनुसंधान में खुलासा किया कि इस मामले में मुस्कान के प्रमुख निदेशक डा.रुद्रदेव, रामनाथ विद्यार्थी, ललन कुमार, विजय कुमार सिंह, संध्या कुमारी,अरुण कुमार श्रीवास्तव, असीम कुमार सिंह, कमलेश कुमार, नीरज रंजन, संजय कुमार के विरुद्ध जालसाजी, धोखाधड़ी ,आपराधिक साजिश रचने और चेक बांउस का मामला सत्य पाया गया है।

वरीय पुलिस अधिकारियों ने इन फरार अभियुक्तों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने का निर्देश जांच अधिकारी को दिया है। इस कांड के पीड़ितो द्वारा मुस्कान संस्था को ड्राफ्ट और चेक द्वारा बैक में जमा किए गए रुपए कहां गए और मुस्कान परियोजना का बैक खाता किस-किस बैंक में है, उसकी पूरी जानकारी जुटाने का भी निर्देश दिया गया है। मुस्कान के खाते में पैसा कहां से आया और कहां गया इसका पता करने का निर्देश भी दिया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुस्कान के निदेशक प्रमुख समेत 11 फरार