DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जिला प्रशासन जांच के लिए खड़गपुर भेजेगा मलबा

वरीय संवाददाता  भागलपुर। भागलपुर रेलवे स्टेशन परिसर में जीआरपी बैरक की निर्माणाधीन दीवार के गिरने की जांच कर रही विशेषज्ञों की टीम 10 दिन में अपनी रिपोर्ट दे देगी। सोमवार को मालदा डिवीजन के डीआरएम एमके माथुर ने टीम के सदस्यों से जांच की प्रगति की जानकारी ली।

इधर, जिला प्रशसन ने भी इस दुर्घटना को गंभीरता से लेते हुए दीवार निर्माण में लगे मेटेरियल की गुणवत्ता की जांच आईआईटी खड़गपुर से कराएगा। इसके लिए टूटे दीवार के मलबे को जांच के लिए वहां भेजा जाएगा। शुक्रवार को स्टेशन परिसर में जीआरपी बैरक की निर्माणाधीन दीवार गिर जाने से चार लोगों की मौत हो गई थी। रेलवे ने दुर्घटना की जांच के लिए तीन सदस्यीय कमेटी बनाई है।

डीआरएम माथुर ने बताया कि टीम ने रेल अधिकारियों से पूरे मामले की जानकारी ली है। रेल अधिकारियों ने अपना स्टेटमेंट दे दिया है, अब ठेकेदार, मुंशी और मजदूरों से पूछताछ होगी। माथुर ने उम्मीद जताई कि 10 दिन में रिपोर्ट मिल जाएगी। जिला प्रशासन ने भी इस दुर्घटना को गंभीरता से लिया है। जिला प्रशासन का तर्क है कि मृतक भागलपर के थे इसलिए प्रशासन की भी जिम्मेदारी बनती है।

दुर्घटना के बाद जिला प्रशासन ने मलबे को जब्त किया था तथा इसकी वीडियोग्राफी कराई थी। जब्त मलवे को जांच के लिए आईआईटी खड़गपुर भेजा जा रहा है। वहां पर निर्माण में लगे मेटेरियल की गुणवत्ता की जांच होगी। इधर, रेल पुलिस भी इसकी जांच कर रही है। रेल थाना प्रभारी सरयुग राम ने बताया कि मेटेरियल की गुणवत्ता की जांच लैब में करायी जाएगी। शेख अदालत के परिजनों की मिली अनुग्रह राशि भागलपुर।

शुक्रवार को जीआरपी बैरक की गिरी निर्माणाधीन दीवार से दबकर मारे गए पूर्णिया निवासी शेख अदालत के परिजनों को सोमवार को 50 हजार रुपये अनुग्रह राशि के रूप में दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जिला प्रशासन जांच के लिए खड़गपुर भेजेगा मलबा