DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विधान परिषद में हुआ नीतीश का अभिनंदन

पटना, हिन्दुस्तान ब्यूरो। विधानपरिषद में भूटान यात्रा से लौटने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का भव्य स्वागत किया गया। बिहार विधानमंडल की ओर से राज्य विधायी अध्ययन एवं प्रशिक्षण ब्यूरो ने इसका आयोजन किया था। सभापति ताराकांत झा ने स्मृति चिह्न के रूप में राधाकृष्ण की मिथिला पेंटिंग देकर उनका अभिनंदन किया।

सभापति ने बताया कि सामाजिक न्याय के सिपाही नीतीश कुमार सांस्कृतिक जीवन में भी प्रवेश करना चाहते हैं। विधानसभा के अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी ने मुख्यमंत्री के व्याख्यान को ऐतिहासिक क्षण बताया और कहा कि वे राज्य के बदलाव के प्रतीक हैं। उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में राज्य में सकारात्मक परिवर्तन आया है और देश-दुनिया में हमारा सम्मान बढ़ा है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बताया कि इस तरह का व्याख्यान मुख्यमंत्री दारोगा राय के समय में हुआ था जैसी कि सूचना उन्हें विधानपार्षद शिवप्रसन्न यादव ने दी है। मुख्यमंत्री ने लगभग सवा घंटे तक भूटान के संस्मरण सुनाए और लोग एकटक उनकी बात सुनते रह गए।

इस अवसर पर संसदीय कार्यमंत्री विजेन्द्र प्रसाद यादव, विधानपरिषद के उपसभापति सलीम परवेज, जदयू प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह, मंत्री विजय कुमार चौधरी, गिरिराज सिंह, रेणु कुशवाहा, प्रो. अरुण कुमार, इन्द्र कुमार, कमलनाथ सिंह ठाकुर, संजय गांधी, ज्ञानेन्द्र सिंह ज्ञानू, राजीव रंजन, विनोद सिंह, नीरज कुमार, अरुण मांझी, दामोदर सिंह, सुनील सिंह, शिवप्रसन्न यादव, राजू सिंह, उषा सिन्हा, अनुज सिंह, चन्देश्वर प्रसाद चन्द्रवंशी, अनिल पाठक, रामवचन राय, शंभू नाथ सिन्हा आदि मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विधान परिषद में हुआ नीतीश का अभिनंदन