DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

धरना-प्रदर्शन के नाम रहा शिक्षा विभाग का कार्यालय

वाराणसी कार्यालय संवाददाता। माध्यमिक शिक्षा विभाग के कार्यालयों में शुक्रवार को धरना-प्रदर्शन का दिन रहा। जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय पर कटिंग मेमोरियल के शिक्षकों के समर्थन में शर्मा गुट के शिक्षकों का धरना जारी है। वहीं पर शिक्षणेत्तर कर्मचारियों ने भी धरना दिया।

दूसरी ओर, संयुक्त शिक्षा निदेशक कार्यालय पर चेतनारायण सिंह गुट के शिक्षकों का मंडलीय धरना भी हुआ। संयुक्त शिक्षा निदेशक कार्यालय पर हुए धरने में शिक्षकों ने कई मांगें उठाईं। कहा कि शिक्षा का राष्ट्रीयकरण किया जाए, तदर्थ शिक्षकों और प्रधानाचार्यो का नियमित हों, एलटी ग्रेड के शिक्षकों की सेवा में सीटी ग्रेड की सेवा जोड़ी जाय, नवीन अंशदायी पेंशन योजना समाप्त हो, माध्यमिक शिक्षा परिषद का पुनर्गठन किया जाए और बोर्ड की उत्तरपुस्तिकाओं के मूल्यांकन की दर समान हो।

इसके अलावा कई अन्य मांगें भी शामिल हैं। धरना स्थल पर हुई सभा में वीरेंद्र प्रताप सिंह, रामानुज सिंह, अशोक कुमार श्रीवास्तव, संतशरण सिंह, राकेश सिंह, राजेन्द्र प्रसाद गुप्ता, ज्वाला प्रसाद राय, रघुवंश राय, डा.सुरेंद्र कुमार द्विवेदी और जितेन्द्रनाथ आदि ने विचार व्यक्त किए। दूसरी ओर तीन माह से वेतन से वंचित कटिंग मेमोरियल इंटर कालेज के शिक्षकों के समर्थन में शर्मा गुट के शिक्षकों का अनिश्चितकालीन धरना शुक्रवार को जारी रहा।

शिक्षकों का कहना था कि जब तक वेतन भुगतान नहीं होता धरना जारी रहेगा। धरने का नेतृत्व जिलाध्यक्ष अशोक कुमार सिंह और मंत्री अनिल कुमार श्रीवास्तव कर रहे थे। डीआईओएस कार्यालय पर माध्यमिक शिक्षणेत्तर संघ ने भी धरना दिया।

कर्मचारियों को शिक्षक पद पर प्रोन्नत, उपार्जित अवकाश के राशिकरण की सुविधा, राजकीय लिपिकों की तरह विद्यालयों के लिपिकों को ग्रेड पे मिले, न्यूनतम पेंशन 3500 किया और वित्तविहीन विद्यालयों में कार्यरत शिक्षणेत्तरकर्मचारियों की सेवा नियमावली बनायी जाय आदि।धरने का नेतृत्व जिलाध्यक्ष महावीर प्रसाद श्रीवास्तव और मंत्री निखिलेश कुमार त्रिपाठी ने किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:धरना-प्रदर्शन के नाम रहा शिक्षा विभाग का कार्यालय