DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सासाराम सदर अस्पताल में तोड़फोड़, लाठीचार्ज

िनज प्रितिनिधसासाराम। स्थानीय सदर अस्पताल के आउटडोर में सोमवार को मरीजों की लगी कतार के बीच पहले पुर्जा कटाने को लेकर मरीजों ने हंगामा मचाया। स्थित को अनियिंत्रत होते देख अस्पताल में तैनात सुरक्षाकिर्मयों ने बल प्रयोग किया।

लाठीचार्ज में दिरगांव थाना क्षेत्र के बड़की करपुरवा के कृष्णा महतो, अनिल महतो, धर्मेन्द्र महतो, सुधीर महतो सिहत आधा दर्जन लोग घायल हो गये। इसके बाद जुटे करपुरवा के दर्जनों लोगों ने अस्पताल में जमकर उत्पात मचाया और तोड़फोड़ की,जिंसमें दो सुरक्षाकर्मी घायल हो गये और अस्पताल के खिड़की-दरवाजों के शीशे टूट गए।

ग्रामीण सुरक्षाकिर्मयों से मारपीट करने पर आमादा थे,जिंन्हें एक कमरे में तीन घंटे तक बंद रखा गया। हंगामा को देख स्वास्थ्य कर्मी भी अपना कक्ष छोड़ कर भाग खड़े हुए। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद स्थित को नियंत्रित किया। चार घंटे तक मरीजों की जांच प्रक्रिया बंद रही।

दूर-दूर से आये मरीज चिलिचलाती धूप में इधर-उधर भटकते रहे। पूरा अस्पताल पिरसर पुलिस छावनी में तब्दील हो गया, तो अपर समाहर्ता भवानी प्रसाद ने डॉक्टरों को बैठा कर जांच शुरू करायी। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक मनु महाराज ने बताया कि घटना की जांच कराई जा रही है।

दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी। तीन एफआईआर दर्ज की गईसदर अस्पताल में सोमवार को हुई मारपीट व तोड़फोड़ की घटना में तीन एफआईआर दर्ज कराई गई है। पहला एफआईआर अस्पताल प्रशासन ने सरकारी कार्य में बाधा व सरकारी संपित्त को नुकसान पहुंचाने वाले डेढ़ दर्जन अज्ञात लोगों पर दर्ज करायी है।

दूसरा घायल बड़की करपुरवा के अिनल महतो द्वारा आधा दर्जन सुरक्षाकिर्मयों पर करायी गयी है, जबकि तीसरा एफआईआर सुरक्षा किर्मयों की ओर से हवलदार रामप्रवेश सिंह ने दर्ज कराई है,जिंसमें अज्ञात लोगों द्वारा सुरक्षाकिर्मयों पर हमला कर घायल करने, वर्दी फाड़ देने का आरोप लगाया गया है।

पुलिस तीनों पक्ष का बयान लेकर अस्पताल में हुई क्षित का जायजा ले रहे है। अस्पताल में सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सासाराम सदर अस्पताल में तोड़फोड़, लाठीचार्ज