DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सत्ता में आए तो शिक्षक होंगे नियमित: लालू

मधुबनी। हिन्दुस्तान संवाददाता राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने कहा कि अगर सूबे में राजद-लोजपा की सरकार बनती है तो ठेके पर बहाल शिक्षकों को नियमित कर दिया जाएगा। बिहार का विकास ठीक वैसे ही होगा जैसा कि उनके कार्यकाल में रेलवे का हुआ।

उक्त बातें उन्होंने मधुबनी जिले के बाबूबरही, जयनगर, गंगौर, लौकही, फुलपरास और राजनगर में आयोजित जनसभाओं को संबोधित करते हुए कही। राज्य एवं केन्द्र सरकार पर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा कि बढ़ती महंगाई ने गरीबों का जीना मुहाल कर दिया है और किसानों की कमर तोड़कर रख दी है।

राज्य में अफसरशाही और भ्रष्टाचार बढ़ा है। गरीबों का निवाला छीननेवाली केन्द्र और सूबे की सरकार को जनता इस बार धूल चटा देगी। राज्य सरकार के मुखिया पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा कि कोई ऐसा सगा नहीं जिसे नीतीश ने ठगा नहीं है।

सामाजिक न्याय एवं साम्प्रदायिक सद्भाव के लिए कोई भी कुर्बानी देने को तैयार रहने का दावा करते हुए उन्होंने कहा कि आर्थिक आजादी से पहले मानसिक आजादी जरूरी है। अपने पिछले शासनकाल में राजद ने जनता को भले ही कुछ नहीं दिया, लेकिन स्वाभिमान और जुबान जरूर दिया।

उन्होंने नीतीश कुमार पर आरोप लगाते हुए कहा कि वे समाज को बांटने का काम कर रहे हैं। लालू ने कहा कि राजा की गलती की सजा प्रजा को भुगतनी पड़ती है। इसलिए इस बार जनता चुकेगी नहीं। नीतीश को सत्ता से बेदखल कर ही दम लेगी। राज्य में पांच साल में सिर्फ विज्ञापन एवं घोषणाओं की सरकार चलती रही है। यहां न उद्योग लगे और न कल- कारखाने। मनरेगा में काम मजदूर से नहीं मशीन से कराया गया। सूबे से मजदूर एवं शिक्षित बेरोजगारों का पलायन होता रहा।

राजद की गंगौर सभा की अध्यक्षता प्रो. उमेश आर्य, जयनगर सभा की अध्यक्षता राम प्रसाद यादव, लौकहा में वंशीलाल मंडल, बाबूबरही में राजकुमार यादव, फुलपरास में अधिकलाल यादव, राजनगर में हरि प्रसाद यादव ने की। सभा को अन्य लोगों के अलावा प्रत्याशी रामाशीष यादव, सीताराम यादव, चितरंजन यादव, उमाकांत यादव,विरेन्द्र कुमार चौधरी एवं रामलषण राम रमण ने भी संबोधित किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सत्ता में आए तो शिक्षक होंगे नियमित: लालू