DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

औरंगाबाद में माओवादियों ने किया रफीगंज विधायक का अपहरण

औरंगाबाद। प्रेमेन्द्र कुमार मिश्र/भरत ठाकुर रफीगंज के राजद विधायक मो. नेहालुद्दीन का मदनपुर थाने के लालटेनगंज गांव से शनिवार की शाम पांच बजे दर्जनों सशस्त्र माओवादियों ने अपहरण कर लिया। इस घटना की पुष्टि करते हुए एसपी विवेक राज सिंह ने बताया कि अपहृत विधायक की तलाश में छापेमारी की जा रही है। अब तक मिली सूचना के अनुसार विधायक अपने आधा दर्जन समर्थकों के साथ अपनी पार्टी के एक स्थानीय कार्यकर्ता से मिलने के लिए लालटेनगंज गांव में गए थे। यह गांव मदनपुर के दक्षिणी इलाके में पहाडिम्यों के करीब स्थित है। उनके वहां जाने का कार्यक्रम पहले से ही तय था। इसकी भनक लगने के कारण वहां पहले से ही दर्जनों नक्सली घात लगाए बैठे थे। जैसे ही विधायक वहां पहुंचे दर्जनों सशस्त्र नक्सलियों ने उनके काफिले को घेर लिया और उन्हें समर्थकों सहित वाहन से उतारकर अपने साथ पहाड़ की ओर ले गए। विधायक के साथ उनका सरकारी सशस्त्र बॉडी गार्ड भी था जिसका अपहरण नक्सलियों ने विधायक के साथ ही कर लिया है। गांव के बाहर लगी विधायक की गाड़ी विक्टा को नक्सलियों ने पेट्रोल छिड़क कर जला दिया और उनके काफिले के एक अन्य वाहन स्कार्पियो को बुरी तरह क्षतिग्रस्त कर दिया लेकिन इसकी आधिकारिक पुष्टि अभी नहीं की गई है। विधायक का मोबाइल भी नक्सलियों ने छीन लिया है जो फिलहाल स्विच आफ मिल रहा है। विदित हो कि नक्सलियों ने इस इलाके में चुनाव बहिष्कार का आह्वान कर रखा है और इसी क्रम में यह अपहरण होने की आशंका जताई जा रही है। कुछ साल पहले नक्सलियों ने जिले के देव विधानसभा क्षेत्र के तत्कालीन विधायक सुरेश पासवान का उनके बाडी गार्ड सहित अपहरण कर लिया था और हथियार लूटने के बाद छोड़ा था। उस घटना के बाद किसी राजनीतिज्ञ के अपहरण की यह पहली घटना है। एसपी के अनुसार अपहरण के कारणों का पता नहीं चल पाया है। विधायक की तलाश में एसपी के नेतृत्व में सीआरपीएफ, सैप तथा जिला पुलिस बल की टुकड़ी घटनास्थल की ओर रवाना की गई है। लेकिन अब तक विधायक की कुशलता के बारे में कोई सूचना पुलिस को नहीं मिली है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:औरंगाबाद में माओवादियों ने किया रफीगंज विधायक का अपहरण