DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सम्यक दृष्टि से किया गया फैसला

इंट्रो--------अयोध्या पर कोर्ट के निर्णय को संतुलित और न्यायसंगत मान रहे हैं साहित्यकारलेखकों की रायएस.एस. नूर ने कहा-किसी के साथ अन्याय नहीं, सभी को मिला पूरा महत्वफैसले से राजनीति में जारी व्यर्थ की विपदा समाप्त हुई : अशोक वाजपेयीकोट-----------मैं इस फैसले से संतुष्ट हूं। मेरा मानना है कि यह बेहद संतुलित, तर्कसंगत और न्यायसंगत है। मुङो व्यक्तिगत रूप से लगता है कि किसी के साथ कोई अन्याय नहीं हुआ।असगर वजाहतभाषानई दिल्लीअयोध्या के विवादित स्थल के मालिकाना हक को लेकर इलाहाबाद हाई कोर्ट के फैसले को तमाम साहित्यकारों ने संतुलित, न्यायसंगत और सम्यक दृष्टि से किया गया निर्णय बताया है। साहित्य अकादमी के उपाध्यक्ष एस.एस. नूर ने कहा, मेरा ख्याल है कि अदालत का फैसला बेहद संतुलित रहा और यह किसी के खिलाफ नहीं है। इसमें किसी के साथ अन्याय भी नहीं किया गया। मुक्षे ऐसा लगता है कि इसमें सभी को पूरा महत्व दिया गया।ललित कला अकादमी के अध्यक्ष और वरिष्ठ कवि अशोक बाजपेयी ने अयोध्या फैसले के बारे में कहा, यह सम्यक दृष्टि से लिया गया फैसला है। मगर यह विचित्र है कि रामजन्म भूमि जैसे मिथक के बारे में अदालत फैसला कैसे कर सकती है। हालांकि, उन्होंने कहा, इस फैसले के साथ ही भारतीय राजनीति में चली आ रही व्यर्थ की विपदा समाप्त हो गयी है और अब हम सभी को परस्पर सद्भाव और उदारता के साथ आगे चलना चाहिए।वरिष्ठ आलोचक कृष्णदत्त पालीवाल ने कहा, बहुत अच्छा फैसला है और घुमा फिराकर सभी धर्मो के बीच समीकरण अधिक मजबूत होंगे। विविध धर्मावलंबियों के इस देश में इससे देश की सांस्कृतिक एकता आगे बढ़ेगी। लेखक दयाप्रकाश सिन्हा ने कहा, यह हिन्दू या मुसलमान में से किसी एक की विजय नहीं है बल्कि पुरातत्व सर्वेक्षण की जीत है। तकनीक के विकास के साथ सत्य वस्तुपरक हो गया है।हंस के संपादक और वरिष्ठ साहित्यकार राजेंद्र यादव ने कहा, अयोध्या का फैसला सुनने में अच्छा लग रहा है। मगर थोड़ा दिग्भ्रम की स्थिति की बनी हुई है और बिना पूरा फैसला जाने किसी भी प्रकार की टिप्पणी करना सही नहीं है। हालांकि, उन्होंने कहा, हिन्दुओं को सुन्नी वक्फ बोर्ड की शिकायत को जरूर सुनना चाहिए कि आखिर वे क्या चाहते हैं। असगर वजाहत ने कहा, मुङो नहीं लगता है कि इस फैसले के बाद किसी को आगे कुछ करने की जरूरत है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सम्यक दृष्टि से किया गया फैसला