DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आर-पार की लड़ाई के मूड में शिक्षक

पटना, युवा रिपोर्टर राज्यभर के नवनियुक्त तथा स्थायी शिक्षक सरकार से आर-पार की लड़ाई के मूड में हैं। बिहार राज्य प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षक संयुक्त मोर्चा के बैनर तले 16 अगस्त से शिक्षक अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं।

हड़ताल समाप्त कराने के लिए सरकार की ओर से कोई पहल नहीं किए जाने से आक्रोशित शिक्षकों ने 21 सितंबर को राजधानी में सड़क पर उतरने का फैसला किया है। आंदोलन की तैयारी जोर-शोर से चल रही है। राज्य के सभी जिला मुख्यालयों व प्रखंड मुख्यालयों में बैठकें हो रही हैं।

बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ गोप गुट के प्रदेश अध्यक्ष नागेन्द्र सिंह, महासचिव प्रदीप राय, बिहार पंचायत-नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप कुमार पप्पू व राज्य सचिव राकेश कुमार ने कहा कि सरकार की दो रंगी नीति की वजह से हड़ताल लंबी खिंचती जा रही है।

इससे सरकार का तानाशाहीपूर्ण चरित्र उजागर हो गया है। शिक्षकों की हड़ताल 16 अगस्त से चल रही है। शिक्षक संगठनों का दावा है कि हड़ताल में लाखों शिक्षक शामिल हैं। उन्होंने कहा कि नवनियुक्त शिक्षकों को विहित वेतनमान, जिला स्थानांतरण की सुविधा सहित राजकीयकृत स्कूलों की तरह हर सुविधा देने की मांग की। प्रदर्शन को सफल बनाने के लिए वैशाली, मुजफ्फरपुर, अररिया, मधेपुरा, सहरसा, छपरा, अरवल, बक्सर, कैमूर, रोहतास, औरंगाबाद, जहानाबाद एवं गया में शिक्षकों की बैठक चल रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आर-पार की लड़ाई के मूड में शिक्षक