DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोसी प्रमंडल का राजधानी से सीधा सड़क सम्पर्क भंग

सहरसा, निजी प्रतिनिधि डुमरी घाट में कोसी नदी पर बने बीपी मंडल (डुमरी पुल) का पाया धंसने से चौड़ी होती जा रही दरार के मद्देनजर सोमवार की रात से इस होकर हल्के वाहन का परिचालन भी रोक दिया गया है।

इस कारण कोसी प्रमंडल का राजधानी से सीधा सड़क संपर्क भंग हो गया है। कोसी इलाके का यातायात संपर्क प्रभावित हो जाने के कारण यहां के लोगों को आवागमन के संकट का सामना करना पड़ रहा है। आवश्यक उपभोक्ता सामग्रियों के मूल्य में उछाल आने से लोगों की परेशानी दोहरी हो गयी है।

मालूम हो कि सहरसा-महेशखूंट एनएच 107 पर डुमरी के निकट वर्ष 1991 में इस पुल का निर्माण हुआ था। बीते 29 अगस्त को 31 पाये के इस पुल के 16वें नंबर के पाया में धसान शुरू होने से इस पुल होकर भारी वाहनों की आवाजाही बंद कर बचाव कार्य शुरू किया गया।

बताया जाता है कि नदी की बीच धारा में तेज बहाव के कारण बचाव के प्रयास अभी तक कारगर साबित नहीं हो पाए हैं। धंसान से पुल के 16 नं. पाये के समीप 290 मि.मी. की दरार आ गयी है। सोमवार की रात एक बजे से पुल होकर हल्के वाहन के परिचालन को भी रोक दिया गया।

स्थल पर बचाव कार्य में लगे एनएच खगड़िया डिवीजन के एक्जक्यूटिव इंजीनियर गोपाल सिंह ने मंगलवार को बताया कि मिट्टी का क्षरण होने से पाया धंसा है। बोल्डर क्रेटिंग लगातार करायी जा रही है। उम्मीद है कि पुल को बचा लिया जाएगा।

वाहनों का परिचालन पूरी तरह बंद हो जाने से कोसीवासियों के समक्ष गंभीर समस्या उत्पन्न हो गयी है। सड़क मार्ग से अब सहरसा सहित सुपौल तथा मधेपुरा आने के लिए यात्रियों सहित सामान लदे वाहनों को पुर्णिया-मुरलीगंज-बिहारीगंज-उदाकिशुनगंज होकर लम्बी यात्रा तय करनी पड़ रही है।

इस सड़क की भी स्थिति अच्छी नहीं है। वाहनों का अचानक लोड बढ़ जाने से इस सड़क पर भी यातायात कब प्रभावित हो जाए कहना मुश्किल है। डुमरी पुल से यातायात बंद होने का असर प्रथम चरण के तहत इस इलाके में होने वाले विधान सभा चुनाव पर भी पड़ने की संभावना व्यक्त की जा रही है। जिलाधिकारी आर लक्ष्मणन भी इस बात से इत्तेफाक रखते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोसी प्रमंडल का राजधानी से सीधा सड़क सम्पर्क भंग