DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पटना -बछवाड़ा (बेगूसराय)-मुआवजे की मांग को लेकर किसानों ने बांध

पटना -बछवाड़ा (बेगूसराय)-मुआवजे की मांग को लेकर किसानों ने बांध निर्माण कार्य रोका24 मार्च बेगूसराय-बिहार500 मीटर रिंग बांध का निर्माण 3 वर्षो से अधर मेंबछवाड़ा (ए.सं.)। मिट्टी के मुआवजे की मांग को लेकर फिर बिसौआ जमींदारी बांध के निर्माण कार्य को कुछ किसानों ने मंगलवार को रोक दिया। किसानों ने बताया कि बांध निर्माण के लिए उनके खेतों से काटी गई मिट्टी का मुआवजा जब तक नहीं मिलेगा तबतक रिंग बांध का निर्माण कार्य ठप रहेगा। इस वजह से सूरो, झमटिया घाट व पिढ़ाैली में करीब 3 साल से गंगा बाया नदी पर उक्त बांध के ऊंचीकरण व मजबूतीकरण का कार्य पेंडिंग पड़ा है। झमटिया पुल के समीप करीब 200 मीटर लंबाई में रिंगबांध वर्ष 2007 में ही कट कर गंगा बाया नदी में विलीन हो गया था। बची जमीन पर बांध निर्माण कर रहे मजदूरों को नारेपुर के लालचंद यादव, रामविलास यादव आदि ग्रामीणों ने निजी जमीन होने की बात कह कर बैरंग लौटा दिया। संवेदक धर्मवीर कुमार ने कहा कि बांध निर्माण में मिट्टी नदी के तलीय क्षेत्र से काटने का प्रावधान है। एस्टीमेट में अलग से मिट्टी खरीदने को कोई प्रावधान नहीं है। वित्तीय वर्ष 2007-08 बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल बेगूसराय की ओर से 1 करोड़ 54 लाख रुपए प्राक्कलित राशि से उक्त योजना का काम शुरू कराया गया था। तेघड़ा के समीप अयोध्या ढाला से दादुपुर तक 12 किलोमीटर लंबे बांध में विभिन्न जगहों पर करीब 500 मीटर लंबे उक्त बांध का निर्माण कार्य वर्षो से अधर में है। बाढ प्रमंडल बेगूसराय के सहायक अभियंता गणेश प्रसाद सिंह ने कहा कि 31 मार्च तक किसानों के खेतों से बांध निर्माण के लिए काटी गई मिट्टी का मुआवजा मिल जाने की संभावना है। इस मद में करीब ढाई लाख रुपए का आवंटन प्राप्त हो चुका है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पटना -बछवाड़ा (बेगूसराय)-मुआवजे की मांग को लेकर किसानों ने बांध