DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘कहीं पे निगाहें कहीं पे निशाना’ की नीति अपना सकते

िवनायक िवजेतापटना। शीर्षस्थ माओवादी नेता किशन जी द्वारा दो राज्यों में हमले तेज करने की घोषणा के बाद केन्द्रीय खुिफया तंत्र के कान खड़े हो गए हैं। एक शीर्षस्थ खुिफया एजेंसी ने िबहार सिहत उन तमाम राज्यों को एलर्ट किया है जहां माओवादी गितिविधयां हैं। खुिफया तंत्र को आशंका है कि नक्सली ‘कहीं पे िनगाहें कहीं पे िनशाना’ की नीित अपना सकते हैं। केन्द्र के िनर्णय के आलोक में िबहार से सटे झारखंड के सीमावर्ती क्षेत्र में बुधवार से शुरू हुए ऑपरेशन ‘ग्रीन हंट’ ने माओवािदयों के बीच बेचैनी बढ़ा दी है। हालांकि माओवादी नेता कोटेश्वर राव उर्फ किशन जी ने िबहार और झारखंड के मुख्यमिंत्रयों की प्रशंसा की है इसिलए इन दोनों राज्यों पर माओवादी हमले की आशंका कम है िफर भी खुिफया एजेिंसयां सतर्कता बरत रही हैं। खुिफया एजेिंसयों को यह शक है कि माओवादी कोलकाता ओर भुवनेश्वर पर हमले की बात कह सुरक्षा बलों का ध्यान उस ओर लगाकर किसी दूसरे साफ्ट टारगेट को िनशाना बना सकती हैं। खुिफया एजेिंसयों को शक है कि माओवादी केन्द्रीय संपित्त को िनशाना बना सकते हैंजिंसमें रेलवे संपित्त प्रमुख है। सूत्रों अनुसार माओवािदयों के संभािवत हमले के मद्देनजर आरपीएफ के डीजी ने भी नक्सल प्रभािवत राज्यों में पदस्थािपत रेलवे के मुख्य सुरक्षा आयुक्तों के पत्र भेजकर रेलवे संपित्तयों की िवशेष िनगरानी के िनर्देश िदए हैं। इसके बाद िबहार के सभी प्रमुख जंक्शनों और संवेदनशील स्थानों से होकर गुजरने वाली रेल पटिरयों पर नजर रखी जा रही है। इधर खुिफया एजेंसी िबहार के उन नक्सली नेताओं पर भी नजर रख रही है जो केन्द्रीय सिमित में हैं या इस प्रितबिंधत संगठन में प्रमुख ओहदे पर हैं। भारत नेपाल सीमा पर तैनात एसएसबी की बटािलयने भी सीमा क्षेत्र में पैनी नजर रखे हुए है। नेपाल के रास्ते िबहार और बंगाल के नक्सिलयों को हिथयार मुहैया होने की खबर के बाद सीमावर्ती क्षेत्रों में िनगरानी और कड़ी कर दी गई है। हालांकि इस बाबत पूछे जाने पर राज्य के डीजीपी नीलमिण ने कहा कि नक्सल गितिविध तो क्या अन्य मामले को लेकर भी राज्य में पहले से ही सर्तकता बरती जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ‘कहीं पे निगाहें कहीं पे निशाना’ की नीति अपना सकते