DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहारियों की मेरिट से डाह करते हैं लोग दूसरे प्रदेशों में

पटना(हि.ब्यू.)। बिहारियों पर दूसरे प्रदेशों में हमले के मसले पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि यहां के बच्चों में इतनी मेरिट है कि लोग उनसे डाह (ईष्र्या) करते हैं और इसी वजह से दूसरे राज्यों में ऐसी घटनाएं हो रही हैं। उन्होंने कहा कि देश में कोई भी कहीं भी जाकर नौकरी कर सकता है। यह संवैधानिक अधिकार है। बिहार में लोक सेवा आयोग की परीक्षा में देश भर के लोग शामिल होते हैं। दूसरे प्रदेशों के अफसर हमारे यहां काम करते हैं। बिहारी लड़कों में मेरिट है तो वे दूसरे राज्यों में क्यों नहीं जाएंगे। वे जाएंगे और जब भी इस तरह की घटना होगी तो सरकार उसे पूरी मजबूती से उठाएगी। बुधवार को विधान परिषद में शून्यकाल के दौरान विनोद कुमार चौधरी और मिश्री लाल यादव ने इंफाल में इंटरव्यू देने जा रहे एक बिहारी पर हमले का मामला उठाया था। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह गंभीर विषय है और जब भी इस तरह की घटनाएं होती हैं तो सरकार उसे पूरी गंभीरता से लेती है। इस दौरान मुख्यमंत्री ने तमिलनाडु की घटना का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि घटना की सूचना मिली तो तत्काल गृह सचिव और डीजीपी को तमिलनाडु के गृह सचिव व डीजीपी से बात करने का निर्देश दिया गया। उन्होंने स्वयं तमिलनाडु के मुख्यमंत्री और केन्द्रीय गृह मंत्री से बात की। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ने कहा कि वे सभी जरूरी कार्रवाई करेंगे। पता चला कि वहां एक लड़के की दुर्घटना में मौत के बाद छात्र आंदोलित हो गए थे। गृह मंत्री ने भी फोन कर मुझसे बातचीत की। उन्होंने कहा कि हम अपने राज्य को बेहतर बनाने का संकल्प लें। इस तरह की घटनाओं पर हमारी कॉमन (अन्य पार्टियों) फिलिंग है। सदस्यों से कहा कि अगर इस मुद्दे पर हमलोगों को बैठना हो तो आगे भी बैठ सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बिहारियों की मेरिट से डाह करते हैं लोग दूसरे प्रदेशों में