DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

थाने पर हमला : सीसीटीवी में कैद हैं पूरी करतूतें - घटना को

िववेक पांडेयकार्यालय संवाददाताचंडीगढ़। इंडिस्ट्रयल एिरया थाने के अंदर दो गुटों के िभड़ने और िफर थाने पर पथराव करने वाले आजाद घूम रहे हैं। जबकि अंतराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त चंडीगढ़ के इस थाने के अंदर गुत्थम-गुत्थी हुई और कई लहुलुहान हो गए। थाने में लगे सीसीटीवी कैमरों में बुधवार रात को जो भी हुआ उसकी पूरी तस्वीर पुिलस के पास िरकार्ड के रूप में है। आश्चर्य की बात यह है किजिंन लोगों ने थाने के अंदर घुसकर मारपीट की, थाने पर पथराव किया और उसके बाद भी नारे बाजी करते रहे वे िफर थाने में घूमते नजर आए। पुिलस सूत्रों का तो यहां तक कहना है किजिंन तत्वों ने इस बार पुिलस थाने पर पथराव किया है उन्होंने ही िपछली दफा भी थाने पर पत्थर फेंके थे। उस समय कस्टडी डेथ को लेकर बवाल हुआ था, तत्कालीन एसएचओ जागीर िसंह को इसकी किमत भी चुकानी पड़ी थी। कालोनी नंबर चार में रहने वाले ये तत्व आजाद घूमते हैं और थाने पर पथराव करने के बाद भी थाने के अंदर सीना चौड़ा कर टहलते हैं। इस घटना ने एक बार िफर से आम आदमी के सामने पुिलस को कमजोर सािबत किया है। अब यही देखना है कि पुिलस सीसीटीवी की मदद से किन-किन को िगरफ्तार करती है। सीसीटीवी कैमरे शहर के सभी थानों के मुख्य गेट, सेल के कॉिरडोर, एसएचओ रूम और मुंशी रूम आिद में लगा हुआ है। अिधकािरयों ने पुिष्ट की है कि सीसीटीवी में पूरी तस्वीरें कैद हुई हैं। उल्लेखनीय है कि बुधवार को कालोनी नंबर चार में दो गुटों में बवाल हो गया। दोनों पािर्टयों को थाने बुलाया गया और अचानक दोनों में िभड़ंत हो गई। यह घटना पुिलस अिधकािरयों के सामने हुई। अभी कोई कुछ कर ही पाता कि कई चेहरों से खून िनकलने लगें और कईयों के कपड़े फट गए। इसके बाद पहले हमला करने वाला गुट बाहर िनकला और थाने पर पथराव कर िदया। एसएचओ के कमरे पर लगी िखड़की के तीन कांच टूट गए। अब पुिलस दोष किसी को दे लेकिन इस घटना ने यह तो तय कर िदया कि असामािजक तत्वों में पुिलस का कोई खौफ नहीं है। कालोनी के लोगों में इस बात को लेकर काफी डर है क्योंकि उनका कहना है कि यिद थाने पर इस तरह की वारदात होगी तो आम आदमी क्या करेगा ?

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: थाने पर हमला : सीसीटीवी में कैद हैं पूरी करतूतें - घटना को