DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नक्सली इलाकों में कुओं के पानी से परहेज की हिदायत

रांची (आईएएनएस)। झारखण्ड में नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई का दायरा बढ़ा रहे सुरक्षा बलों से कहा गया है कि वे कओं का पानी पीने से परहेज करें क्योंकि इनमें विषाक्त पदार्थ मिले हो सकते हैं।आधिकारिक सूत्रों ने सोमवार को बताया कि यह हिदायत ऐसे समय दी गई है जब राज्य के विभिन्न हिस्सों में नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई का दायरा विस्तृत कर दिया गया है। एक पुलिस अधिकारी ने आईएएनएस को बताया कि जंगली रास्तों को समझने और बारूदी सुरंगों से बचने के लिए सुरक्षाकर्मियों को स्थानीय लोगों से मदद लेने की सलाह दी गई है।अधिकारी ने बताया कि इन क्षेत्रों को नक्सलियों के कब्जे से मुक्त कराना कार्रवाई का उद्देश्य है। सूत्रों ने बताया कि सुरक्षा बलों ने नक्सलियों के छह शिविरों को नष्ट कर दिया और कुछ स्वयंभू नक्सली कमांडरों को गिरफ्तार करने के साथ ही बड़े पैमाने पर हथियार जब्त किए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: नक्सली इलाकों में कुओं के पानी से परहेज की हिदायत