DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कॉलेज भी सेमेस्टर सिस्टम के लिए तैयार

कार्यालय संवाददाता चंडीगढ़पंजाब यूनिवर्सिटी से जुड़े कॉलेजों में भी अगले सत्र से सेमेस्टर सिस्टम की शुरुआत हो जाएगी। कैंपस में सेमेस्टर लागू करने के बाद कॉलेजों में भी पठन-पाठन की इस नई पद्धति को लागू करने पर सोमवार को प्रिंसिपलों की बैठक में सहमति बन गई। कुलपति प्रो. आरसी सोबती के प्रस्ताव पर अधिकांश कॉलेज के प्रिंसिपलों ने सेमेसटर सिस्टम लागू करने की हामी भरी। इस पर प्रिंसिपलों को कहा गया कि सेमेस्टर सिस्टम लागू करने की दशा में कॉलेजों को अंडर ग्रेजुएट की परीक्षाएं अगले दो वर्ष तक अपने यहां ही करानी होगी, कॉलेज में ही कॉपियां जांचनी होगी और छात्रों को दिखाकर उनके हस्ताक्षर करवाने होंगे ताकि पारदर्शिता बरकरार रहे।सेमेस्टर सिस्टम लागू करने की दिशा में छुट्टियों के बदलने, अन्य समस्याओं के समाधान की खातिर कुलपति ने प्रिंसिपलों की आपस में ही एक कमेटी का गठन कर दिया और जल्द से जल्द इस दिशा में फैसला लेने को कहा।कुलपति ने कहा कि पोटेंशियल फॉर एक्सीलेंस के लिए पीयू ने आवेदन भरा है। इसके लिए सबसे बड़ी शर्त है कि यूनिवर्सिटी के कैंपस के साथ ही कॉलेजों में भी सेमेस्टर सिस्टम लागू होना चाहिए। इस बैठक में कुलपति के साथ रजिस्ट्रार एसएस बारी, एडीसीडीसी प्रो. केशव मलहोत्रा, कंट्रोलर एग्जामिनेश्शन प्रो. एके भंडारी भी उपस्थित थे। बैठक के बाद यूबीएस के चेयरमैन प्रो. दिनेश गुप्ता ने सभी प्रिंसिपलों को प्रोफेश्नलिज्म का पाठ पढ़ाया।सभी सिलेबर होगा वेबसाइट परपंजाब यूनिवर्सिटी के हर विषय का सिलेबस अब वेबसाइट पर उपलब्ध कराया जाएगा। कुलपति ने प्रिंसिपलों को भरोसा दिलाया कि 30 जुलाई से पहले सभी विषयों के सिलेबस पीयू आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध कराया जाएगा। अब कॉलेजों को सिलेबस छपवाकर नहीं भेजा जाएगा। इस पर कई प्रिंसिपलों ने नाराजगी जताई है। खासकर ग्रामीण क्षेत्र के कॉलेजों का कहना है उनके लिए इंटरनेट की व्यवस्था अब भी दूर की कौड़ी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कॉलेज भी सेमेस्टर सिस्टम के लिए तैयार