DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रदूषण जांच के लिए बनेंगी चार नई लैब

चंडीगढ़। हरियाणा के पर्यावरण मंत्री कैप्टन अजय सिंह यादव ने रविवार को कहा कि राज्य प्रदूषण बोर्ड पानीपत, यमुनानगर, सोनीपत तथा बहादुरगढ़ में चार नई प्रयोगशालाएं स्थापित करेगा। श्री यादव ने कहा कि पंचकूला. फरीदाबाद. गुड.गांव तथा हिसार में बोर्ड द्वारा इस प्रकार की प्रयोगशालाएं पहले से ही स्थापित की जा चुकी हैं तथा उपरोक्त चार नई प्रयोगशालाएं स्थापित करने की स्वीकृति केलिए प्रस्ताव केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को भेजा जा चुका है।मंजूरी मिलने की उम्मीद जताते हुए उन्होंने कहा कि उद्योगपतियों को और अधिक सुविधाएं उपलब्ध कराने के उद्देश्य से राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने अनापत्ति प्रमाणपत्र प्रक्रिया को सरल एवं पारदर्शी बनाने के लिए इसे ऑनलाईन करने का फैसला लिया है।अगर यह परियोजना सफल रही तो इसका विस्तार करके बोर्ड परिचालन के लिए सहमति .अधिकृति प्रदान करना तथा सैस कलैक्शन जैसी सेवाओं को भी ऑनलाइन सेवाओं के दायरे में शामिल करेगा। मंत्री ने कहा कि राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की मानवशक्ति तथा प्रयोगशाला ढांचे को और अधिक मजबूत किया जा रहा है ताकि प्रत्एक जिले में इसके कार्यालय स्थापित किए जा सकें। उन्होंने कहा कि पर्यावरण के बारे में लोगों को और विशेषकर किसानों को जागरूक करने के विशेष प्रयास किए जा रहे है। हरियाणा सरकार ने धान के भूसे तथा गेहूं की पराली को जलाने तथा प्लास्टिक थैलों के नुकसानदायक प्रभावों के बारे में पहले से ही एक जागरूकता अभियान चलाया हुआ है। श्री यादव के अनुसार प्रदूषण नियंत्रण के उद्देश्य से हाल ही में राज्य सरकार ने प्लास्टिक थैलों के बारे में संशोधित अधिसूचना जारी करकेइसकी मोटाई 30 माइक्रोन से बढ.ाकर 40 माइक्रोन तथा आकारमें भी बढ.ोतरी की है और हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अतिरिक्त अन्य विभागों के अधिकारियों को भी प्लास्टिक थैलों का इस्तेमाल करने वालों को दंडित करने का अधिकार दिया गया हैजिसमें जुर्माने का प्रावधान भी शामिल है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: प्रदूषण जांच के लिए बनेंगी चार नई लैब