DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कैमूर में नक्सलियों का तांडव

कैमूर व औरंगाबाद, हिन्दुस्तान टीमनक्सलियों ने इस बार कैमूर जिले के अधौरा के सारोदाग को निशाना बनाया है। शनिवार की रात नक्सलियों ने गांव के मिडिल स्कूल, सामुदायिक भवन व दो अस्पताल भवनों को उड़ा दिया। दूसरी ओर औरंगाबाद जिले के देव थाना क्षेत्र के यदुपुर गांव में नक्सलियों ने मध्य विद्यालय के भवन को डायनामाइट से उड़ा दिया। अधौरा के सारोदाग में रात में करीब 12 बजे 150 की संख्या में पहुंचे वर्दीधारी माओवादियों ने टोली बनाकर गांव को चारों तरफ से घेर लिया और सामुदायिक भवन व अस्पताल भवन को लैंड माइंस विस्फोट कर उड़ा दिया। जबकि स्कूल भवन में इतनी दरारें पड़ गईं कि उसमें जाने में भी डर लग रहा है। लेकिन आश्चर्य की बात यह है कि घटना के घंटों बाद भी पुलिस सारोदाग नहीं पहुंच सकी। जबकि घटना स्थल से 20 किमी. पीछे अधौरा थाना व सीआरपीएफ के कैंप हैं। जहां घटना हुई है वह स्थल जिला मुख्यालय भभुआ से 85 किमी. दक्षिण एवं उत्तर प्रदेश व झारखंड से दस किमी. की दूरी पर है। नक्सली रोहतास की ओर से आए थे और घटना को अंजाम देकर आथन के रास्ते रोहतास की ओर ही चले गए। बम इतना शक्तिशाली था कि भवन के दरवाजे व खिड़कियां दो सौ फुट दूर जाकर गिरे। उड़ाए गए अस्पताल भवन से मात्र 30 फुट की दूरी पर जानकी कोरवा व रामबचन कोरवा के घर हैं। लेकिन उनके घर को क्षति नहीं पहुंची। नक्सलियों ने हरे पेड़ को काटकर लोहरा के पास सड़क पर गिरा दिए थे। समझा जाता है कि उक्त स्थल के आसपास नक्सली लंड़ााइंस बिछाए हुए थे और पुलिस की गाडिम्यों को देखते ही बम विस्फोट कर देते। ग्रामीणों ने बताया कि पांच माह पहले नक्सली गांव में आए थे। एक माह पहले भी उन्हें बगल से जाते हुए देखा गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कैमूर में नक्सलियों का तांडव