DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पेज एक के लिए

राउरकेला कार्यालय 28 मार्च, फाईल-1आरएसपी में दो श्रमिकों की मौतमृतक के परिवार से एक-एक सदस्य को नौकरी तथा 5-5 लाख रुपए मुआवजा देने की मांग सभी यूनियनों द्वारा की गई है।हमारे संवाददाता राउरकेलाराउरकेला स्टील प्लांट(आरएसपी) में काम करते समय दो ठेका श्रमिकों की उपर से गिर जाने के कारण मौत हो गई। दुर्घटना के बाद सुरक्षा की कमी के कारण श्रमिकों की मौत होने का आरोप लगाते हुए मृतक के परिवार से एक-एक सदस्य को नौकरी तथा 5-5 लाख रुपए मुआवजा देने की मांग सीटू, आरएमएस और सियर यूनियन द्वारा की गई है। जानकारी के अनुसार आरएसपी के सीसीपी-2 में संप्रसारण का काम सपुरी पालमजी कंपनी द्वारा किया जा रहा है। पालमजी कंपनी ने इस काम को भारत इंजीनियरिंग प्रोजेक्ट नामक ठेका कंपनी को दे दिया है। उक्त ठेका कंपनी में राउरकेला महताब रोड अंचल का मुक्ति भुईया और टिंबर कॉलोनी का फकीर मल्लिक वेल्डर के रूप में काम करते थे। शनिवार की रात करीब आठ बजे मुक्ति और फकीर करीब 35 फुट की उंचाई पर काम कर रहे थे। इसी दौरान एक प्लेट के गिर जाने से दोनों भी नीचे गिर गए, जिसके कारण घटनास्थल पर ही फकीर मल्लिक की मौत हो गई, जबकि मुक्ति भुईया बुरी तरह से घायल हो गया। उसे इलाज के लिए इस्पात जेनरल अस्पताल में ला जाया गया, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसकी सूचना पाकर सीटू यूनियन नेता विष्णु महांती, बिमान माईति, राजकिशोर प्रधान, जहांगीर अली, आरएएमएस के दिगम्बर महांती, बिमल भुईया, गोपाल दास, अमित महापात्र, संतोष विश्वाल, बनमाली बेहेरा, हरि सामल, बाबुली भोई, सुरेन्द्र पलाई समेत सियर के नेतागण समेत अनेक श्रमिक अस्पताल पहुंचे। काम के दौरान कारखाना में सुरक्षा नियम का पालन नहीं किए जाने की आरोप लगाते हुए सबों ने इस घटना की निंदा की। सभी यूनियनों ने मिलकर मृतकों के परिवार के एक-एक सदस्य को आरएसपी में स्थायी नियुक्ति एवं 5-5 लाख रुपया मुआवजा के साथ-साथ इएसआइ और पीएफ तुरंत प्रदान किए जाने की मांग की। श्रमिकों को सुरक्षा उपकरण मुहैया करवाने के साथ ही कानूनन सभी सुविधाएं प्रदान करने की मांग की गई। वहीं इस घटना की सूचना पाकर राज्य के आपूर्ति मंत्री शारदा प्रसाद नायक, नगरपाल रश्मि बाला मिश्र, बीजद के राउरकेला अध्यक्ष आनंद महांती, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता निहार राय समेत कई नेताओं ने भी अस्पताल पहुंचकर यूनियन की मांगों का समर्थन किया।फोटो फाईल नंबर आरओयू 28पी-1, 2 व 3 में हैछाया कैप्सन: ठेकेदार से बातचीत करते श्रमिक नेता, अस्पताल पहुंचे मंत्री, रोते-बिलखते परिजन।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पेज एक के लिए