DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आतंकवाद के साथ ही बढ़ रहा नशे का कारोबार भारी मात्रा

िववेक पांडेयचंडीगढ़। िपछले कुछ िदनों में आतंकवादी गितिविधयों के बढ़ने के साथ ही नशे के कारोबार में भी वृिद्ध दर्ज की गई है। ऐसे में एनसीबी की गितिविधयों में तेजी आई है। इस वर्ष की पहली ितमाही में ही सीज की गई हेरोइन एनसीबी के साथ पुिलस के िलए िचंता का िवषय बनी हुई है। चंडीगढ़ एनसीबी ने अकेले पंजाब से पहली ितमाही में डेढ सौ किलो हेरोइन सीज की है। यह हेरोइन अफगािनस्तान से पाकिस्तान होते हुए पंजाब के जिरए देश के अन्य िहस्सों में जा रही थी। यह आंकड़ा िपछले साल के िहसाब से ज्यादा है क्योंकि इस अविध में सन 2009 में करीब 80 से 90 किलो ही हेरोइन बरामद की गई थी। जबकि पूरे वर्ष(सन 2009) में यह आंकड़ा 500 किलो के करीब था। इस वर्ष पहली ही ितमाही में हुई इस बरामदगी ने नए आंकड़े आने के संकेत दे िदए हैं। पंजाब से बरामद होने वाली हेरोइन देशभर में होने वाली बरामदगी का आधा िहस्सा होता है। जैसे सन 2009 में देशभर में एक हजार किलो हेरोइन बरामद हुई थी। इसी क्रम में इस वर्ष पहली ितमाही में देश भर में यह आंकड़ा ढाई सौ से तीन सौ के करीब है। इस बीच जो सबसे अहम बात एनसीबी अिधकािरयों की ओर से नोिटस की गई है वह है नारकोिटक्स कंसाइनमेंट्स के साथ अन्य सामान। इसमें नकली नोटों और चाइना मेड हिथयारों का जखीरा शािमल है। सूत्रों की माने तो नशे के हर जखीरे के साथ इनका बरामद होना, तस्करी में आतंकवािदयों के हाथ होने की पुिष्ट करता है। ऐसे में खतरा बड़ा हो गया है। एनसीबी सूत्रों का यह भी मानना है किजिंतनी हेरोइन की तस्करी होती है उसका 10 प्रितशत िहस्सा ही पकड़ा जाता है ऐसे में यिद इस सूत्र को माने तो हेरोइन की तस्करी पंजाब में काफी बढ़ गई है। आतंकवादी संगठन अपनी आिर्थक िस्थित मजबूत करने के िलए तस्करी का रास्ता अपना रहे हैं। ‘तस्करी बढ़ने के संकेत हैं। एनसीबी सक्रिय है, इंटेिलजेंस बढ़ाने पर जोर है। कुछ इनपुट्स आ रहे हैं लेकिन उसकी चर्चा सार्वजिनक नहीं की जा सकती। पुिलस के साथ ही भी सामंजस्य चल रहा है।’ए.के. यादव, जोनल डायरेक्टर(एनसीबी)

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आतंकवाद के साथ ही बढ़ रहा नशे का कारोबार भारी मात्रा