DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गुरुजी तय करेंगे सप्ताह का टारगेट

कार्यालय संवाददाता चंडीगढ़शिक्षा में सुधार की प्रक्रिया के तहत शहर के कॉलेजों के शिक्षकों को सप्ताह का टारगेट बनाना होगा और उसे हर हाल में पूरा करना होगा। शहर की शिक्षा व्यवस्था को दुरुस्त करने की दिशा में यूटी के उच्च शिक्षा विभाग ने जो योजना तैयार की है, उसका एक अहम हिस्सा यह भी है। सप्ताह का टारेगेट बनाने का जिम्मा शिक्षकों के कंधों पर ही होगा। वर्ष भर के सिलेबस को इस तरह से हिस्सों में शिक्षक बांटे और उसे क्रियांवित करें कि किसी भी क्लास को बोझ न तो उन पर पड़े और न ही छात्रों पर।यह योजना शुरुआती दौर में पॉयलट बेसिस पर होगी। गुरुजी के लिए टारगेट बनाने और उसे निभाने की दिशा में यह साफ हो जाएगा कि कोई भी शिक्षक सप्ताह में ही अलग-अलग सिलेबस की पढ़ाई न शुरू करवा दे। गुरुजी के लिए टारगेट बनाने के पीछे शिक्षा विभाग की मंशा साफ है कि पढ़ाई-लिखाई का काम सुव्यवस्थित तरीके से हो और कॉरपोरेट कल्चर का भाव भी आए।इससे पहले शहर की शिक्षा को उन्नत बनाने व शिक्षकों को अपने लक्ष्यों के प्रति अधिक प्रेरित करने की खातिर शिक्षा विभाग ने फीड बैक फॉर्म की भी शुरुआत की है। फीसड बैक में छात्रों की ओर से दर्शायी गई कमियों को पूरा करने का जिम्मा शिक्षकों पर होगा। हालांकि इसमें साफ किया गया है कि छात्र अपना फॉर्म शिक्षकों को सौंपेंगे और यह गोपनीय होगा। अभी तक हालांकि फीडबैक फॉर्म का कुछ रिजल्ट नहीं आया है।शिक्षा के विकास और इसे अंतरराष्ट्रीय मानकों तक पहुंचाने की खातिर यूटी शिक्षा विभाग ने पहले ही अपनी योजना का खुलासा कर रखा है। स्मॉर्ट क्लास रूम, जाने-माने स्कॉलर्स की सीडियों से लबरेज डिजिटल लाइब्रेरीज और पाठय़ पुस्तकों रहित क्लास रूम की कल्पना भी शामिल है। इन सभी योजना को विजन 2010 डॉक्यूमेंट के तहत तैयार कर उच्च शिक्षा निदेशक ने सभी सरकारी आर निजी कॉलेजों को भेज दिया है। उच्च शिक्षा निदेशक ने कॉलेजों को भरोसा दिलाया है कि वे विजन को पूरा करने के लिए कॉलेजों की जरूरतों को गंभीरता से लेंगे और प्रशासन की ओर से हर संभव सहायता दी जाएगी।इनका कहना हैपढ़ाई-लिखाई को आनंदमय बनाना, छात्रों को समाज से जोड़ना और चंडीगढ़ को नॉलेज सिटी के तौर पर उभारना हमारा मूल मकसद है। शिक्षा कुछ ऐसी हो जिसमें रीयल लाइफ सिचुएशन, उद्योग के अनुरूप कोर्सो की शुरुआत जैसे महत्वपूर्ण पहलुओं को ज्यादा से ज्यादा तवज्जो मिले। इसकी शुरुआत कर दी गई है, लक्ष्य भी हासिल करके रहेंगे।अजोय शर्मा, उच्च शिक्षा निदेशक, चंडीगढ़ प्रशासनफोटो: सोहणी सिटी में सेव की गई है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गुरुजी तय करेंगे सप्ताह का टारगेट