DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हनुमान कृपा से ही मिलेगी राम भक्ति

लखनऊ। भगवान और भक्त का गुणगान मंगल वर्षा करते हैं लेकिन सिर्फ पाठ ही नहीं मनन भी आवश्यक है। हनुमत उपासना के लिए मन शान्त होना बहुत जरूरी है। यह बात रविवार को गुजराती बाबा ने रामकथा में कही। वे हनुमान सेतु स्थित श्री संकट मोचन हनुमान मन्दिर में आयोजित प्रवचन कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि भगवान हनुमान जी का चरित्र सेवक एवं भक्ति के मार्ग का दर्शन कराता है। श्रीराम की भक्ति बिना हनुमान की कृपा के नहीं मिल सकती। वे इतने विनम्र हैं कि उनके सुमिरन करने मात्र से ही समस्त कष्ट दूर हो जाते हैं। इस कलिकाल में जो भक्त हनुमान जी का विनम्रतापूर्वक जप करता है उसका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता।---------------------------------------------प्रवचनलखनऊ। आस्था ईश्वर के प्रति कर्तव्य पूरा करने का धर्म सिखाती है। अधर्म, अज्ञान के अन्धकार में सही राह दिखाती है इसलिए मानव उत्थान में विश्वास एवं आस्था की जरूरत है। यह बात रविवार को दिव्य शक्ति माँ श्रद्धेया जी ने कही। वे इन्दिरानगर के सत्य मन्दिर में वाणी समिति की ओर से आयोजित प्रवचन कार्यक्रम में बोल रही थीं। उन्होंने कहा कि मानव को ईश्वर के वास्तविक स्वरुप को जानकर मानसिक शान्ति एवं शक्ति अर्जित करना चाहिए। उन्होंने पशु-पक्षियों के वध पर चिन्ता व्यक्त करते हुए लोगों से शाकाहार रहने की अपील की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: हनुमान कृपा से ही मिलेगी राम भक्ति