DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जल संकट बनेगी विश्वव्यापी समस्या ‘अस्तित्व’ जल संचयन के लिए चलाएगा

िहन्दुस्तान संवाद लखनऊ प्राकृितक संसाधनों के अत्यिधक दोहन के कारण भूजल स्तर तेजी से िगरता जा रहा है। आने वाले समय में पानी की समस्या सबसे गम्भीर संकट के रूप में उभरेगी, जो पूरी दुिनया के िलए खतरनाक होगा। ये बातें अिस्तत्व वेलफेयर सोसाइटी की अध्यक्ष पुनीता ने रिववार को कहीं।इिन्दरानगर के एक गेस्ट हाउस में आयोिजत पत्रकार वार्ता में पुनीता ने बताया कि पृथ्वी में मौजूद जल स्रेतों में मात्र तीन प्रितशत पानी ही पीने योग्य है। उन्होंने जल संकट से उत्पन्न होने वाली भयावह पिरिस्थितयों से आगाह करते हुए लोगों से पानी बचाने और वर्षा जल संचयन करने की अपील की। संस्था के उपाध्यक्ष एके िनगम ने बताया कि सोमवार को जल िदवस के अवसर पर जन जागरू कता कार्यक्रम आयोिजत किया जाएगा। इसमें संस्था की ओर से शहर के पार्को में मार्िनग वॉक के िलए आने वालों को वर्षा जल संचयन के प्रित जागरूक किया जाएगा। साथ ही इिन्दरानगर सेक्टर-13 के दो पार्को में झूला लगवाया जाएगा। इस अवसर पर नीला जहान संस्था के मुख्य संयोजक एनके वर्मा, पार्षद बीएन िसंह, सोसाइटी के सिचव पंकज आिद मौजूद रहे।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जल संकट बनेगी विश्वव्यापी समस्या ‘अस्तित्व’ जल संचयन के लिए चलाएगा