DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संत रविदास की जयंती धूमधाम से मनी

पटना (हि.प्र.)। राजधानी में शनिवार को संत रविदास की जयंती धूमधाम से मनाई गई। रविदास महापंचायत ने संत रविदास की जयंती मनाई और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। महापंचायत के प्रमुख सुरेन्द्र कुमार स्वतंत्र ने कहा कि संत रविदास युगद्रष्टा संत थे। उन्होंने समाज की कुरीतियों को दूर करने का प्रयास किया। समारोह में डा. अशोक प्रभाकर, प्रो. अनिता दास, प्रो. शंभुकर राम, डा. जितेन्द्र प्रसाद, दिनकर मोची, बबीता कुमारी, इंदु देवी, विभा कुमारी, रामवचन राम शामिल थे। बहुजन समाज पार्टी कार्यालय में संत रविदास की जयंती धूमधाम से मनाई गई। इस अवसर पर पूर्व सांसद गांधी आजाद, लालमणि प्रसाद, तिलकचंद्र अहिरवार, मालती सिंह कुशवाहा, गौतम प्रसाद खरवार शामिल थे। संत रविदास आश्रम बेली रोड में पूजा-अर्चना के साथ जयंती मनाई गई। समारोह की अध्यक्षता करते हुए पूर्व केन्द्रीय मंत्री बालेश्वर राम ने कहा कि संत रविदास कर्मयोगी व श्रमयोगी थे। समाजिक कुरीतियों के खिलाफ उन्होंने कई कदम उठाए। इस अवसर पर अरविन्द लाल रजक, उराम, अखिलेश्वर प्रसाद सिंह, डा. ए. शकुर, सीताराम, डा. अशोक कुमार सिंह, अमित किशोर सिन्हा, सुनील कुमार सिन्हा, दुर्गा प्रसाद, मुशर्रफ अली शामिल थे। अखिल भारतीय रविदास जागरण महासभा एवं बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी अनुसूचित जाति विभाग के अध्यक्ष उमेश कुमार राम , परमेश्वर राम, महेन्द्र राम, संध्या कुमारी, शिवम कुमार, रीता देवी ने संत रविदास की जीवनी पर प्रकाश डाला। बिहार प्रदेश जनता दल यू महादलित प्रकोष्ठ नेरविदास जयंती मनविधायक अरुण मांझी ने कहा कि संत रविदास ने सामाजिक कुरीतियों के खिलाफ जीवनभर संघर्ष किया। भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा, क्रांतिकारी युवा चेतना मंच, स्वतंत्र मजदूर दल, भारत विकास परिषद ने भी संत रविदास की जयंती मनाई। भाजपा नेता घनश्याम राय ने मांग की है कि संत रविदास की जयंती पर अवकाश घोषित किया जाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: संत रविदास की जयंती धूमधाम से मनी