DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हे राम..बापू को बिहारीजन का सलाम गांधी के शहादत दिवस पर

कार्यालय संवाददातापटनाहे राम.. बापू को बिहारीजन का सलाम। महात्मा गांधी के शहादत दिवस को रंगकर्मियों व बुद्धिजीवियों ने शनिवार को कुछ अलग अंदाज में मनाया। भारतीय जननाट्य संघ(इप्टा) बिहार पिछले 13 साल से बापू के शहादत दिवस पर यह आयोजन कर रहा है। बापू के विचारों को जन-जन तक पहुंचाने के मकसद से गांधी मैदान सहित शहर में कई स्थलों पर आयोजन हुआ। भिखारी ठाकुर रंगभूमि में दिनभर बापू के प्रिय भजन व कीर्तन के साथ कई नाटकों की प्रस्तुति हुई। सबसे पहले बापू को मौन श्रद्धांजलि दी गयी। कार्यक्रम की शुरुआत ‘वैष्णव जन ’ भजन से हुई। फिर एचएमटी ने गांधी के जीवन पर आधारित नाटक ‘गांधी’ पेश किया। निर्माण कला मंच ने चर्चित हिन्दी नाटक ‘बकरी’ की पेशकश की। पटना इप्टा व पटनासिटी इप्टा के कलाकारों ने समूह गीत पेश किया जिसमें सीताराम सिंह, रूपा िंसंह, आशुतोष मिश्रा, निशाा यादव,अनुपमा शरण, निशा पराशर ने भजन व सूफी गीत से माहौल को भक्तिमय कर दिया। इस मौके पर बापू के विचारों पर विचार-विमर्श भी हुआ। इसमें प्रसिद्ध गांधीवादी रजी अहमद, शिक्षाविद् प्रो. विनय कंठ, प्रो. डेजी नारायण, शिवकुमार शर्मा, विनोद कुमार, अरशद अजमल, मुरारी, फणीश सिंह, कविता सिंह, कंचनबाला व नैयर प्रमुख थे। इसके पूर्व डाकबंगला चौराहा, पटनासिटी व फुलवारीशरीफ में भी इप्टा के सदस्य जुटे व वहीं से मार्च करते हुए गांधी मैदान पहुंचे थे। इप्टा के महासचिव के मुताबिक इस आंदोलन को अब प्रशासनिक अधिकारियों, ट्रैफिक पुलिस व आम नागरिकों का पूरा सहयोग मिलने लगा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: हे राम..बापू को बिहारीजन का सलाम गांधी के शहादत दिवस पर