DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आग लगने से सब्जी मार्केट राख राजेन्द्रनगर ओवर ब्रिज के नीचे

वरीय संवाददाता पटना। राजेन्द्रनगर ओवर ब्रिज के नीचे सब्जी मार्केट व आसपास स्थित झोपड़ी, दुकान आदि में लगी आग से इलाके में अफरातफरी मच गई। रविवार को दिन में करीब ढाई बजे पुल के पश्चिमी छोर पर स्थित एक झोपड़ी से धुआं के गुब्बार के साथ ही आग की लपटें निकली फिर देखते ही देखते आसपास भी फैल गई। तेज हवा ने ‘घी’ की तरह काम किया और कुछ ही देर में सब्जी मार्केट होते हुए आग पुरानी बाइपास तक धधकने लगी। एक साथ 70 से अधिक झोपडिम्यां आग की चपेट में आ गई। लोगों को संभलने का मौका भी नहीं मिला और उनकी नजरों के सामने उनके खून-पसीने की कमाई से लेकर आशियां तक राख बन गया। इनमें सब्जी दुकानों व झोपड़ीनुमा आवासीय ठिकानों के अलावा एक-एक खटाल और लकड़ी की दुकान भी शामिल है। संयोग अच्छा था कि ऊंची लपटों के बावजूद आग आसपास स्थित कई बडेम् हॉस्पीटल व अन्य संस्थानों के अलावा रिहायशी इलाकों में फैली और किसी तरह की अनहोनी नहीं हुई। जानकारी मिलते ही पटना फॉयर स्टेशन से चार दमकलों के अलावा कंकड़बाग से एक दमकल दस्ता मौके पर पहुंचा। भीषण हालात को देखते हुए पटना सिटी और दानापुर फॉयर स्टेशन से भी एक-एक दमकल बुला लिये गये। आखिरकार दमकलकर्मियों ने तीन घंटे से ज्यादा मशक्कत करने के बाद आग पर काबू पा लिया। विजेन्द्र महतो, कारू यादव, शिव शंकर मंडल, कैलू प्रसाद, अर्जुन कुमार राय, रामशोभित राउत, गणेश महतो, राजीव शर्मा व अन्य पीडिम्तों के मुताबिक बेचने के लिए रखे गये सब्जी के स्टॉक, नकद आदि के अलावा कपड़म, टीवी, पंखा, राशन समेत 40 लाख रुपये से ज्यादा की संपत्ति जल गई। आशंका जताई जा रही है कि खाना बनाने के दौरान निकली चिनगारी से फूस की एक झोपड़ी में आग लगी फिर भीषण स्थिति उत्पन्न हो गई। मौके पर मौजूद डिवीजनल फॉयर अफसर क्लेमेंट फ्लोरियन और पटना फॉयर स्टेशन के प्रभारी सुनील कुमार गुप्ता ने बताया कि फिलहाल आग लगने के कारणों को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है। जांच के बाद ही पीडिम्तों की वास्तविक संख्या और नुकसान आदि का पता चलेगा। जिलाधिकारी जितेन्द्र कुमार सिन्हा, सिटी एसपी मनु महाराज भी घटनास्थल पर पहुंचे और पीडिम्तो से पूछताछ की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आग लगने से सब्जी मार्केट राख राजेन्द्रनगर ओवर ब्रिज के नीचे