DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छठ गीतों से गुंजायमान हुआ बेउर जेल नौ महिला कैदी कर

वरीय संवाददातापटना। राज्य की एकमात्र ‘आदर्श’ केन्द्रीय जेल बेउर में रविवार की सुबह से ही माहौल बदला हुआ था। सिपाहियों की कड़क आवाज और बंदियों के शोरगुल के बीच छठ की गीतों से वातावरण गुंजायमान था। दरअसल बेउर जेल की महिला सेल में कैद नौ महिला बंदियों द्वारा पावन व्रत किया जा रहा है। इसमें सिर्फ जेल प्रशासन ही नहीं बल्कि साथी कैदियों ने भी पूरी मदद की है। जेल के अंदर स्थित तालाब को साफ-सुथरा करके पूृजा के लिए तैयार किया गया था जहां महिला व्रतियों ने शाम का अघ्र्य दिया। इस मौके पर बडी संख्या में कैदियों के अलावा जेलकर्मी व अफसर मौजूद थे। जेल अधीक्षक ओमप्रकाश गुप्ता ने बताया कि प्रशासनिक स्तर पर व्रतियों के लिए नये कपडे, प्रसाद व अन्य आवश्यक सामान के इंतजाम किये गये हैं। सुबह का अध्र्य देने के साथ ही पूजा संपन्न होगी और कैदियों के बीच प्रसाद का वितरण होगा। जेल के गोदावरी खंड में छापेमारी पटना। बेउर जेल में कैदियों के बीच रविवार की देर शाम उस समय खलबली मच गई जब अचानक जेल प्रशासन ने छापेमारी शुरू कर दी। नंबर बंदी (कैदियों को वार्ड में बंद करना) के समय अचानक जेल अधीक्षक दल-बल के साथ गोदावरी खंड में पहुंचे और चप्पे-चप्पे की तलाशी ली। जेल प्रशासन ने इसे रूटीन कार्रवाई बताते हुए छापेमारी के दौरान किसी तरह के अवैध सामान की बरामदगी से इनकार किया। व.सं.

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: छठ गीतों से गुंजायमान हुआ बेउर जेल नौ महिला कैदी कर