DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रीमियर सेवा समाप्त किये जाने का विरोध शुरू आज से काला

पटना (हि.ब्यू.)। प्रीमियर सेवा समाप्त किये जाने के विरोध में कल से काला बिल्ला लगाकर काम करेंगे पशु चिकित्सक। बिहार पशुचिकित्सा संघ ने अपनी आठ सूत्रों मांगों के लिए सरकार को दस दिन का समय दिया था। अवधि पूरी हो गई और अब वे 8 से 13 मार्च तक काला बिल्ला लगाकर काम करेंगे। बावजूद मांगें नहीं मानी गईं तो आंदोलन तेज करेंगे डाक्टर। बिहार पशुचिकित्सा संघ के अध्यक्ष डा. वीरेश प्रसाद सिन्हा और प्रधान माहासचिव डा. धर्मेन्द्र सिन्हा ने आरोप लगाया है कि सरकार ने प्रशासनिक अधिकारियों के समक्ष घुटने टेक दिया। मंत्रिपरिषद के फैसले को अधिकारियों ने खारिज कर दिया। छठे वेतन आयोग ने केन्द्रीय सेवा के पशु चिकित्सकों को प्रवेश स्तर पर पे बैंड तीन (15900 से 39100) के साथ ग्रेड पे 5400 प्रदान किया है। राज्य मंत्रिपरिषद ने भी अंतरिम रूप से इसे लागू कर दिया। लेकिन आईएएस लॉबी को यह पच नहीं पाया। संघ ने माग की है कि सरकार जल्द पूर्व का आदेश बहाल करे। साथ ही केन्द्र की तरह एनपीए भी दे। डायनेमिक एपीसी देने, ठेके पर बहाल डाक्टरों का मानदेय 30000 रुपये करने, प्रोन्नति के पदों को वरीयता से भरने और रिक्त पदों पर बहाली की मांग भी उनकी सूची में शामिल है। संघ ने कहा है कि मंत्रिपरिषद ने राज्य के छह सेवाओं को प्रीमियर सेवा घोषित किया है। इसके लिए सेवा नियमावली का प्रारूप भी बनाने का निदेर्ष वेतन समिति को दिया गया है। बावजूद इसे समाप्त करना अधिकारियों का षणयंत्र है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: प्रीमियर सेवा समाप्त किये जाने का विरोध शुरू आज से काला