DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महिलाओं की स्थिति पुरुषों की अधीन वाली

संवाद सूत्रपटनाजदयू की वरिष्ठ नेत्री कंचन बाला ने कहा है कि सभी समाज के अंदर महिलाओं की स्थिति पुरुषों के अधीन वाली है, लेकिन महिलाएं भी जातिगत और सांप्रदायिक विभाजन की शिकार हैं। महिला आरक्षण विधेयक को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के समर्थन का स्वागत करते हुए कंचन बाला ने कहा कि पंचायत स्तर पर 50 फीसदी आरक्षण देकर महिलाओं को सत्ता व राजनीति में बराबर का अधिकार दिया। यह उनका दूसरा क्रांतिकारी कदम है। उन्होंने कहा कि 14 वर्षो से लंबित आरक्षण के अंदर आरक्षण के मुद्दे को हल करने की दिशा में कभी गंभीर पहल नहीं हुई। उन्होंने कहा कि सामाजिक न्याय और लोकतंत्र का तकाजा है कि विधानसभा और संसद के साथ सत्ता और राजनीति में भी महिलाओं की बराबर की भागीदारी होनी चाहिए, इसके लिए आरक्षण का अधिकार मिले। जदयू नेत्री ने प्रधानमंत्री से महिला आरक्षण विधेयक शीघ्र पारित करने की मांग करते हुए कहा कि अब महिला बिल पारित करने में कोई राजनीतिक अड़चन नहीं है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: महिलाओं की स्थिति पुरुषों की अधीन वाली