DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मनमाफिक नहीं चलेंगी जविप्र की दुकानें जस्टिस बाधवा कमेटी की सिफारिश

पटना (हि.ब्यू.)। अब मनमाने तरीके से जन वितरण प्रणाली की दुकान नहीं चला सकेंगे लाइसेंसधारी। राज्य सरकार ने दुकानदारों को तय समय पर हर हाल में दुकान खोलने की चेतावनी दी है। आदेश की अनदेखी करने वालों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जायेगी। जविप्र की दुकानों के समय नहीं खुलने की शिकायतों की वजह से ही खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग ने यह कार्रवाई की है। केन्द्रीय निगरानी समिति ने भी इस ओर सरकार का ध्यान आकृष्ट कराया था। अगर कभी दुकान बंद रखना भी पड़ा तो दुकानदार को एसडीओ से इजाजत लेनी होगी। सार्वजनिक वितरण प्रणाली (नियंत्रण) कानून के अन्तर्गत सरकारी अवकाश और सोमवार को जविप्र दुकानें बन्द रह सकती हैं। मार्च से अगस्त तक प्रतिदिन सुबह सात बजे से अपराह्न् एक बजे तक जबकि सितम्बर से फरवरी तक सुबह आठ बजे से अपराह्न् दो बजे तक दुकानें खोलने का भी प्रावधान है। इसके बावजूद न्यायाधीश (रिटा.) डी.पी.बाधवा की अध्यक्षता में बिहार पहुंची कमेटी ने गया, जहानाबाद, नालन्दा, बेगूसराय, समस्तीपुर, पटना और मुजफ्फरपुर में जन वितरण प्रणाली में कई तरह की गड़बडिम्यां पकड़ीं। इसमें एक मामला निर्धारित अवधि में दुकानों के बन्द रहने और उपभोक्ताओं से अधिक कीमत लेकर कम मात्रा में सामान देने का था। इसी वजह से विभागीय संयुक्त सचिव राधा बिहारी ओझा ने सभी जिलों के डीएम से निर्धारित अवधि में दुकानों को खोलने और उपभोक्ताओं को निर्धारित दर व मात्रा में सामान उपलब्ध कराने की व्यवस्था कराने को कहा है। उपभोक्ताओं की जानकारी के लिए हरेक जविप्र दुकान में बोर्ड पर दुकानदार का नाम, दुकान खुलने व बंद होने का समय और साप्ताहिक छुट्टी का पूरा ब्योरा लिखा होगा। विभाग ने यह भी स्पष्ट कर दिया है कि मनमाने तरीके से दुकान संचालित करते पाये जाने पर जविप्र दुकानदार का लाइसेंस तत्काल निलंबित कर दिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मनमाफिक नहीं चलेंगी जविप्र की दुकानें जस्टिस बाधवा कमेटी की सिफारिश