DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ईसा मसीह का कफन प्रदर्शित करेगा वेटिकन

तूरीन चर्च मे रखे इसी कपड़े से ढका गया था ईसा का शव आस्था10 अप्रैल से 23 मई के बीच तुरीन चर्च में प्रदर्शित किया जाएगा यह कपड़ा कफन की प्रमाणिकता साबित नहीं, इस पर बना है सूली पर लटकते एक व्यक्ति का चित्रभाषालंदनपिछले एक दशक में पहली बार वेटिकन अगले महीने तुरीन के कफन को प्रदर्शनी के लिये रखने वाला है। ऐसा माना जाता है कि सूली चढ़ाने के बाद ईसा मसीह को दफनाये जाने के वक्त उनकी पार्थिव देह को इसी इस लिनेन कपड़े से ढका गया था।इस कपड़े पर एक व्यक्ति का चित्र है, जिसे देखकर लगता है कि वह सूली पर लटकते हुए दर्द से कराह रहा है। इस चित्र की उत्पत्ति कई वैज्ञानिकों, धर्मशास्त्रियों, इतिहासविदों और शोधकर्ताओं के बीच एक गंभीर चर्चा का विषय है।वेटिकन ने अब यह घोषणा की है कि इस कफन को 10 अप्रैल से 23 मई के बीच तुरीन चर्च में प्रदर्शनी के लिए रखा जाएगा। गौरतलब है कि तुरीन चर्च में यह कफन 500 से अधिक वषरे से रखा हुआ है और चर्च के सहस्राब्दी समारोह के मौके पर 10 साल पहले आखिरी बार इसे प्रदर्शनी के लिए रखा गया था।तुरीन कार्डिनल सेवेरिनो पोलेटे के हवाले से ‘डेली मेल टेलीग्राफ’ ने बताया है कि यह बिल्कुल स्पष्ट है कि हमारी ईसाई आस्था कफन पर आधारित नहीं है, बल्कि गॉस्पेल और एपोस्टील्स की शिक्षाओं पर आधारित है। पोलेटो ने स्वीकार किया कि इस कफन की प्रमाणिकता साबित करना कठिन है।बहरहाल, उन्होंने स्वीकार किया कि इस बारे में कोई गणितीय निश्चितता नहीं है, जिससे यह प्रमाणित किया जा सके कि यह वही कफन है, जिसे प्रभु ईशु की देह पर डाला गया था। उन्होंने कहा, ‘यह भी सच है कि इसे मिटाने या कृत्रिम रूप से बनाने की हमारी कोशिशें नाकाम हो गईं और यह निश्चित तौर पर कोई कृत्रिम चीज नहीं है।’ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ईसा मसीह का कफन प्रदर्शित करेगा वेटिकन