DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जमाखोरों-कालाबाजारियों पर सख्ती बढ़ी दाल, तेल, चावल पर 25 सितम्बर तक

पटना (हि.ब्यू.)। जमाखोरों पर सख्ती बरतते हुए राज्य सरकार ने दाल, खाद्य तेल, तेलहन और चावल के कारोबार पर लाइसेंस की अवधि बढ़ा दी है। अब राज्य के सभी इलाकों में 25 सितम्बर तक सख्ती बरकरार रहेगी। केन्द्र सरकार की पहल पर राज्य के खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग ने लाइसेंसिंग और स्टॉक लिमिट ऑर्डर जारी किया है। व्यापारियों को 100 क्विंटल तक दाल रखने पर लाइसेंस की जरूरत नहीं पड़ेगी। नगर निगम क्षेत्र के व्यापारी एक समय में अधिकतम 2000 क्विंटल चावल, 750 क्विंटल दाल और 500 क्विंटल खाद्य तेल का स्टॉक रख सकेंगे। वह भी सिर्फ 30 दिनों के लिए। विभागीय संयुक्त सचिव राधा बिहारी ओझा ने सभी प्रमंडलीय आयुक्तों और डीएम को नये बदलाव की जानकारी दे दी है। चावल मिलों को एक समय में 3000 क्विंटल चावल रखने की इजाजत दी गयी है जबकि दाल मिलों के लिए अधिकतम स्टॉक सीमा 1500 क्विंटल होगी। इससे राज्य में दाल और चावल की जमाखोरी और कालाबाजारी पर नियंत्रण में आसानी होगी। यह कानून जन वितरण प्रणाली की दुकानों, उचित मूल्य की दुकानों, भारतीय खाद्य निगम और राज्य खाद्य निगम के स्टॉक पर लागू नहीं होगा। स्टॉक सीमा (क्विंटल)उत्पाद नगर निगम अन्य क्षेत्र चावल 2000 1000दाल 750 500खाद्य तेल 500 250खाद्य तेलहन 1000 500

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जमाखोरों-कालाबाजारियों पर सख्ती बढ़ी दाल, तेल, चावल पर 25 सितम्बर तक