DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

युवा और महिलाओं की होगी खास भागीदारी पार्टी संगठन के लिए

पटना(हि. ब्यू.)। राजद ने महिला आरक्षण विधेयक का भले विरोध किया हो लेकिन अब पार्टी अपने संगठन में युवाओं के साथ इनकी भी संख्या बढ़ाने में जुट गई है। संगठन ऐसा होगा जिसमें सभी वर्गो के साथ संघर्ष में कदम से कदम मिलाकर चलने वाले साथियों का चेहरा दिखेगा। नया फार्मूला तैयार हो गया है, जल्द ही प्रदेश कमेटी की घोषणा भी हो जायेगी। खास बात यह है कि अरामतलबी और सिर्फ वहनों पर बोर्ड लगाकर कार्यकर्ताओं पर धौंस जमाने के लिए पद की चाहत रखने वाले इस बार निराश होंगे। कुछ नये पदों के सृजन के साथ पदधारकों की स्वीकृत संख्या भी बढ़ेगी। चुनावी महासमर में कूदने के पहले राजद संगठन को चुस्त बनाने में जुट गया है। राष्ट्रीय और प्रदेश अध्यक्षों का चुनाव हो जाने के बाद कमेटियों के गठन के लिए पार्टी प्रमुख ने नया फार्मूला तैयार किया है। कमेटी की घोषणा में विलंब का यही कारण है। उम्मीद है कि इस माह के अंत तक नई टीम की घोषणा कर दी जाएगी। पार्टी प्रमुख लालू प्रसाद ने यह साफ कर दिया है कि हर वर्ग के लोगों का उचित प्रतिनिधित्व कमेटी में होना चाहिए। जरूरत पड़े तो पदधारकों के लिए निर्धारित संख्या 60 फीसदी तक बढ़ा दी जाए। प्रदेश कमेटी में अभी अध्यक्ष, प्रधान महासचिव व कोषाध्यक्ष के एक-एक पदों के अलावा पांच उपाध्यक्ष, दस महासचिव, दस सचिव और 65 कार्यकारिणी के सदस्यों की व्यवस्था है। अति पिछड़ा वर्ग का प्रतिनिधित्व पुरानी कमेटी में भी कम नहीं था लेकिन चुनावी वर्ष को देखते हुए उनकी संख्या और बढ़ सकती है। सवर्णो और महादलितों के प्रतिनिधित्व पर भी विशेष जोर है। माई समीकरण भी बरकरार रहे इस बात का खास ख्याल किया जा रहा है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: युवा और महिलाओं की होगी खास भागीदारी पार्टी संगठन के लिए