DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार पर्यटन में पूंजी निवेश करेंगे विदेशी बौद्ध बोधगया में बौद्ध

कार्यालय संवाददातापटना।अमेरिका, कनाडा, आस्ट्रेलिया, फ्रांस व ब्रिटेन में बसे बौद्ध धर्मावलंबी बिहार में पर्यटन के क्षेत्र में निवेश करेंगे। इनकी योजना बोधगया में बौद्ध मंदिर व बौद्ध विहार बनाने की है। इस सिलसिले में आधा दर्जन से अधिक देशों के 40 प्रतिनिधि सोमवार को पटना पहुंच रहे हैं। यह दल बोधगया व राजगीर भी घूमने जाएगा। भारत पर्यटन की ओर से सोमवार को इनका सम्मान किया जाएगा। भारत पर्यटन के पटना शाखा के सहायक महानिदेशक संजय श्रीवत्स ने रविवार को एक प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि लाओस के मूल निवासियों का यह दल अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, आस्ट्रेलिया, कनाडा आदि देशों में बसा हुआ है। इन लोगों ने अमेरिका के वर्जिनिया में बहुत बड़ा बौद्ध मंदिर बनाया है। पिछले दिनों अमेरिका में तैनाती के दौरान इन बौद्ध धर्मावलंबियों के अगुआ चंदापौर से बातचीत हुई व उसी दौरान उनके बिहार आने का प्रोग्राम तय हुआ। उनके मुताबिक लाओस के बौद्ध धर्मावलबियों द्वारा करोड़ाें रुपए की लागत से बोधगया में ‘वाट लाओ मोनास्ट्री’ यानी बौद्ध मंदिर बनायी जाएगी। भारत पर्यटन के अतुल्य भारत अभियान की सफलता की चर्चा करते हुए कहा कि चीन से बौद्ध धर्मावलंबियों को भारत खासकर बिहार लाने के मकसद से बीजिंग में भारत पर्यटन का दफ्तर खोला गया है। इससे उम्मीद है कि चीनी पर्यटकों की तादाद बहुत बढ़ेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बिहार पर्यटन में पूंजी निवेश करेंगे विदेशी बौद्ध बोधगया में बौद्ध