DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मतदान केंद्र स्तरीय पदाकारियों के कार्य महत्वपूर्ण : डीएम

10 बीएलओ पुरस्कृतहिन्दुस्तान प्रतिनिधिपटना मतदान केंद्र स्तरीय पदाधिकारियों के कार्य काफी महत्वपूर्ण हैं। इनके द्वारा तैयार की जाने वाली मतदाता निर्वाचक सूची के आधार पर ही लोगों को इपिक मिलेगा जिसके आधार पर वे अपने मताधिकार का प्रायोग कर सकेंगे। ये बातें जिलाधिकारी जितेंद्र कुमार सिन्हा ने रविवार को श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में आयोजित बीएलओ की जिला स्तरीय कार्यशाला एवं प्रशिक्षण शिविर में कही। उन्होंने कहा कि योजनाबद्ध करीके से कार्य करने पर कोई भी काम कठिन नहीं है। सोमवार से प्रकाशित होने वाले निर्वाचक सूची के प्रारूप का का पुनरीक्षण का कार्य पूरी तत्परता से करने का निर्देश बीएलओ और व निर्वाचन से जुड़े अधिकरियों को डीएम ने दिया है। इसमें हर हाल में शत-प्रतिशत उपलब्धि हासिल करने को कहा है। राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुधीर कुमार राकेश ने कहा कि सुविधा के मुताबिक मतदान केंद्र स्तरीय पदाधिकारियों को उनके आवासीय क्षेत्र का बीएलओ बनाया जा सकता है। इस मौके पर अच्छा काम करने वाले प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के 10 बीएलओ को पुरस्कृत किया गया। पिछले लोकसभा चुनाव में बेहतर काम करने के लिए निर्वाचन शाखा के तत्कालीन वरीय प्रभारी अनिरुद्ध कुमार को सम्मानित किया गया। इसके अलावा वर्तमान फोटो मतदाता पहचान पत्र बनाने में अच्छी उपलब्धि के लिए पटना सदर एसडीओ, मो. नौशाद यूसुफ, पालीगंज के एसडीओ डा. प्रदीप कुमार, बाढ़ के एसडीओ अमरेंद्र कुमार, खशुरुपुर के ईआरओ ओम प्रकाश महतो व पटना सदर के बाल विकास परियोजना पदाधिकारी प्रभा कुमारी को पुरस्कृत किया गया। संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कुमार अंशुमाली ने पुनरीक्षण कार्य एवं निर्वाचन प्रक्रिया की विस्तार से जानकारी दी। कार्यशाला में सभी बीएलओ, सीडीपीओ, नरेगा के प्रोग्राम पदाधिकारी, प्रखंड शिक्षा प्रसाद पदाधिकारी, पंचायत सचिव व जिला स्तरीय पदाधिकारी उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मतदान केंद्र स्तरीय पदाकारियों के कार्य महत्वपूर्ण : डीएम