DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गुड फ्राइडे के लिए ईसाइयों की प्रार्थना सभा शुरू

गुड फ्राइडे पर्व आने में सिर्फ 11 दिन शेषपटना। गुड फ्राइडे पर्व आने में सिर्फ 11 दिन शेष बच गये है। ईसाई समुदाय में इस पर्व को मनाने के लिए जोर-शोर से तैयारी चल रही है। गिरजाघरों व ईसाई मुहल्लों में प्रभु यीशु की कठिनाइयों से संबंधित ‘क्रूस रास्ता’ और ‘मुसीबत’ नामक भजन, भक्ति गायन व प्रार्थना के कार्यक्रम शुरू हो गए हैं। ज्ञात हो कि संसार की मानव जाति के उद्धार व पापों से मुक्ति दिलाने के लिए प्रभु यीशु जिन्दा सूली पर चढ़ गये और अत्याचार बर्दाश्त करते हुए अपना बलिदान दे दिया था ताकि बुराई पर अच्छाई की विजय हो। इसी की याद में ईसाई समुदाय के लोग गुड फ्राइडे मनाते हैं। कैथोलिक ईसाई गिरजाघरों में दो अप्रैल शुक्रवार को गुड फ्राइडे का पर्व मनाएंगे। इस दिन ईसाई प्रभु यीशु के क्रूस पर चढ़ाये जाने, उनके द्वारा उठाये गये कष्ट व यातना भरी यात्राा को चौदह मुकाम के जरिये स्मरण करते हैं। इसको लेकर चर्च में प्रार्थना सभाओं का आयोजन किया जाता है। अल्पसंख्यक ईसाई कल्याण संघ के अध्यक्ष एस. के. लॉरेंस ने बताया कि प्रभु यीशु के क्रूस पर चढ़ाए जाने के वृतांत को ‘मुसीबत’ नामक भजन, प्रार्थना व भक्तिमय गीतों के जरिये पेश करने का कार्यक्रम ईसाई बहुल इलाकों में शुरू हो गया है। फेयरफील्ड कालोनी में श्रीमती दिव्या, फिलिप माइकल, माग्रेट मार्टिन, कुर्जी बालू पर में विक्टर फ्रांसिस जॉन, मरियम टोला और एक्सटीटीआई में संदीप कृलॉसन, कुर्जी में रिचर्ड अब्राहम के नेतृत्व अपने-अपने मुहल्ले में टोली बनाकर दीघा व बांसकोठी, चकारम चर्च, पाटलिपुत्र चर्च आदि जगहों पर गुड फ्राइडे पर्व को लेकर भजन-कीर्तन जारी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गुड फ्राइडे के लिए ईसाइयों की प्रार्थना सभा शुरू