DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अगवा व्यवसायी मिला रिश्तेदार के दोस्त के घर मामा के मोबाइल

वरीय संवाददातापटना। शुक्रवार को पाटलिपुत्र थाना क्षेत्र के अल्पना मार्केट के पास से लापता तीस वर्षीय मो. फैयाज को पुलिस ने रविवार को आलमगंज स्थित उसके बहनोई के दोस्त के घर से बरामद किया। फैयाज के पिता मो. हबीब ने शनिवार को फैयाज के अपहरण की प्राथमिकी दर्ज करायी थी। पुलिस को यह आशंका है कि उसने परिजनों को झांसा देने के लिए अपने अपहरण की झूठी कहानी गढ़ी थी।मूल रूप से पीरबहोर थाना के सब्जीबाग निवासी फैयाज शुक्रवार को अल्पना मार्केट के पास निर्माणाधीन एक अपार्टमेंट में आया था। यहां इस अपार्टमेंट में वह डेकोरेशन का काम करवा रहा था। अपार्टमेंट से निकलने के बाद वह रहस्यमय ढंग से लापता हो गया। शुक्रवार को देर रात तक वह घर नहीं पहुंचा तो उसके परिजनों ने पाटलिपुत्र थाना में उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करायी। इसी बीच फैयाज ने अपने मोबाइल से अपने मामा अख्तर को यह एसएमएस भेजा कि चार-पांच अज्ञात युवकों ने उसका अपहरण कर लिया है। इसके बाद गुमशुदगी का मामला अपहरण में बदल कर जांच शुरू की गई। पुलिस ने जब फैयाज के मोबाइल के टावर का लोकेशन पता करना शुरू किया तो शनिवार की शाम उसका लोकेशन राजगीर और बाद में मोकामा बताने लगा। इस आधार पर थानाध्यक्ष गजाधर नाथ मिश्रा के नेतृत्व में पुलिस की दो टीमों का गठन कर मोकामा और राजगीर भेजा गया पर पुलिस को वहां कोई सुराग नहीं मिला। रविवार को जब फिर छानबीन की गई तो फैयाज का मोबाइल आलमगंज क्षेत्र में होने का पता चला। इसके बाद सुराग पाते हुए पुलिस आलमगंज थाना क्षेत्र में फैयाज के बहनोई के एक दोस्त के घर पहुंची जहां बैठकर फैयाज आराम से बातें कर रहा था। जब पुलिस ने उसे पूछताछ की तो उसने बताया कि अज्ञात अपहर्ता उसे अगवा कर ले गए थे और रविवार को आलमगंज में छोड़ दिया। हालांकि पुलिस को उसकी कहानी पर यकीन नहीं है। थानाध्यक्ष ने बताया कि उससे जब यह पूछा गया कि जब अपहर्ता उसे कब्जे में लिए हुए थे तो उसने अपने मामा को एसएमएस कैसे किया तो वह कोई जबाव नहीं दे सका।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अगवा व्यवसायी मिला रिश्तेदार के दोस्त के घर मामा के मोबाइल