DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किसानों के सवाल पर विधानसभा घेरेगा राजद केन्द्र व राज्य दोनों

पटना(हि. ब्यू.)। राष्ट्रीय जनता दल किसानों के सवाल पर विधानसभा का घेराव करेगा। सिंचाई, बिजली, लाभकारी मूल्य, केसीसी और डीजल अनुदान वितरण में धांधली को मुद्दा बनाकर पार्टी का किसान प्रकोष्ठ बजट सत्र में ही यह कार्यक्रम आयोजित करेगा। इसके साथ ही महंगाई और अन्य ज्वलंत मुद्दों पर पार्टी द्वारा घोषित 15 फरवरी और 23 मार्च को प्रखंड और जिला घेराव कार्यक्रम में भी किसानों की सक्रिय भूमिका होगी। संगठन की राज्य कार्यकारिणी और जिलाध्यक्षों की बैठक के बाद प्रेस को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष मुन्द्रिका सिंह यादव ने कहा कि किसान डपोरशंखी घोषणाओं से आजिज आ चुके हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि केन्द्र व राज्य दोनों ही सरकारें किसान विरोधी हैं। किसानों को मिलने वाले अनुदान कम करने पर विचार चल रहा है। खाद और बीज के लिए किसान मारे-मारे फिरते हैं। महंगाई का व्यापक असर खेती पर पड़ रहा है। उत्पादन में लगने वाली वस्तुएं महंगे दामों पर खरीदते हैं और अपने उत्पाद को कम दाम पर बेचते हैं। भूख से मरने की घटनाएं बढ़ रही हैं। कोसी त्रासदी ङोल चुके किसानों की जमीन से बालू नहीं हटाया गया। बेघर हुए किसानों का घर नहीं बना। फसलों का मुआवजा तक नहीं मिला। डीजल अनुदान किसी भी जिले में वास्तविक किसान को नहीं मिला है। सुखाड़ ग्रस्त घोषित 26 जिलों में किसानों को सरकार द्वारा घोषित एक क्विंटल अनाज तो नहीं ही मिला, नकद दिये जाने वाले 250 रुपयों में एक फूटी कौड़ी भी नसीब नहीं हुई। सूबे में भूख से मरने वालों की संख्या लगभग पांच सौ है। किसान रैली के दौरान 45 सूत्री मांगों को ज्ञापन राज्यपाल को दिया गया। किसान गुहार लगाते-लगाते थक गये हैं। राजद ने अब सीधी कार्रवाई करेगा। बजट सत्र में किसान विधानमंडल का घेराव कर नीतीश सरकार की पोल खोलेंगे। इसके लिए जल्द ही तारीख घोषित होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: किसानों के सवाल पर विधानसभा घेरेगा राजद केन्द्र व राज्य दोनों