DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इंस्पेक्टर का हुआ तबादला, दो दरोगा समेत तीन सस्पेंड

िबहारशरीफ (पटना), िनज प्रितिनिधिवरोधी गुट से िमलकर दूसरे पक्ष को तंग करना तथा उनपर डंडे चलाने वाले पुिलस अिधकािरयों पर एसपी की गाज िगरी है। शहर के अलीनगर िनवासी मािणक राम को आर्म्स एक्ट के झूठे मामले में फंसाने वाली िबहार थाने की इंस्पेक्टर मालती िसन्हा का एसपी पंकज कुमार दाराद ने तबादला कर िदया है। वहीं दो दरोगा देवेन्द्र चौधरी व धनंजय कुमार िसंह तथा जवान संजय कुमार को सस्पेंड कर िदया। िबहार थाने के इंस्पेक्टर के पद पर महेश प्रसाद भगत को तैनात किया गया है। एसपी श्री दाराद ने बताया कि कई िदनों पूर्व मािणक राम का अपने पडमेसी से िववाद हुआ था। इस मामले के अनुसंधानकर्ता दोनों दरोगा व जवान ने मािणक राम के साथ ज्यादती की थी। वहीं मालती िसन्हा ने उन्हें गलती करने से रोकने के बजाय मामूली िववाद को आर्म्स एक्ट का कसूरवार ठहराकर मिणक को जेल भेज िदया था। पित पर झूठा आरोप लगा जेल भेजे जाने के गम को सहन न करने वाली मािणक की पत्नी की मौत हो गयी। एसपी ने बताया कि जांच के क्रम में यह पाया गया कि मािणक िनर्दोष है। उसके पास से न आर्म्स िमले थे और न ही उसका कोई आपरािधक िरकॉर्ड है। एसपी बताते हैं कि मािणक ढाई हजार की प्राइवेट नौकरी कर अपने पिरवार का भरण-पोषण करता था। बावजूद उक्त पुिलस अिधकािरयों ने िवपक्षी से िमलकर मािणक को जेल भेज िदया था। एसपी श्री प्रसाद ने पुिलस महकमे के सभी लोगों को चेताते हुए कहा है कि किसी भी हालत में बेगुनाहों के साथ छेडम्छाडम् बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इंस्पेक्टर का हुआ तबादला, दो दरोगा समेत तीन सस्पेंड