DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हर आठ घंटे में एक वाहन चोरी

विरष्ठ संवाददाता, आगरािजले में हर आठ घंटे पर एक वाहन चोरी होता है। इसकी सच्चाई खुद पुिलस िरकॉर्ड बयान कर रहे हैं। एक जनवरी से 31 मार्च तकजिंले में लगभग 260 वाहन चोरी हुए हैं। या यूँ कहें कि इन तीन महीनों के 2160 घंटों में इतने वाहन चोरी हुए। इनमें से पुिलस ने करीब 40 बरामद भी किए हैं। जो थानों में खड़े जंग खा रहे हैं। दो-चार वाहन ही असली मािलकों तक पहुँच पाए हैं। वाहन चोरी की सूचना पर चेकिंग का आदेश जरूर होता है, लेकिन चेकिंग कितनी इमानदारी से की जाती है इसकी पोल िहन्दुस्तान ने खोल दी। यही कारण है कि वाहन चोरी का ग्राफ िदन प्रितिदन बढ़ता जा रहा है। अपने वाहनों की सुरक्षा खुद भी करें, रहें अलर्टआगरा। अपने वाहनों की सुरक्षा के िलए अब स्वयं भी अलर्ट रहना जरूरी है, यह बात पुिलस के आला अिधकारी भी स्वीकारते हैं। उनका कहना है कि वाहन चोर पहले से किसी वाहन को िचि?त नहीं करते। पलभर में वाहन तलाशते हैं और उठाकर गायब हो जाते हैं। बाजार, हॉिस्पटल, मैिरज होम, कॉलोनी में घरों के बाहर खड़े वाहन असुरिक्षत हैं। वाहन चोर रात में कम और िदन में ज्यादा घटनाएँ करते हैं। आप इस मुगालते में न रहें कि आपके वाहन का ताला लगा है। चोर लंबे समय से एक ही स्थान पर खड़े वाहन को नहीं उठाते। उसी वाहन को उठाते हैं,जिंसके मािलक को अपनी आँखों से जाते हुए देख लेते हैं। ताला खोलने में उन्हें कुछ सेकेंड लगते हैं। जरा सी सावधानी से वाहन चोरी बंद तो नहीं हो सकती मगर उस पर काफी हद तक अंकुश लगाया जा सकता है।क्या करें दोपिहया वाहन चालक-बाइक में हैंडल लॉक की पत्ती अंदर की तरफ िगरी िदखे तो लॉक बदलवा दें।-हैंडल लॉक के अलावा लोहे की जंजीर से िपछले पिहए में ताला लगाएँ।-स्कूटर के स्टैंड में ताला लगवा लें। हमेशा दोनों ताले बंद करके जाएँ।-वाहन का बीमा खत्म होने से पहले दोबारा करा लें। एक िदन भी न टालें। -वाहन अिधकृत पार्किंग पर ही खड़ा करें। दो-चार रुपये की कंजूसी न करें।-स्कूटर अथवा मोटरसाइकिल में कभी चाबी लगी हुई नहीं छोड़कर जाएँ।-घर के बाहर खड़े हुए वाहन को समय-समय पर जरूर देखते रहें।-कहीं पर पार्किंग न हो तो गाड़ी का प्लग िनकालकर साथ ले जाएँ। एसपी क्राइम अशफाक अहमदक्या करें चार पिहया वाहन चालक-अपनी गाड़ी में सेंटर लॉकिंग िसस्टम लगवाएँ।-हॉफ सेंटर लॉकिंग में 24 सौ रुपये का खर्चा आता है।-फुल सेंटर लॉकिंग में 27 रुपये का खर्चा आता है।-पर्स, मोबाइल, ब्रीफकेस गाड़ी में छोड़कर नहीं जाएँ।-गेयर लॉक लगवाएँ। खर्चा महज 11 रुपये आता है।-रात में घर के बाहर वाहन खड़ा करें तो उसका फ्यूज िनकाल लें।-फ्यूज िनकालने के िलए िसर्फ बोनट खोलना पड़ता है।-फ्यूज िनकलने के बाद किसी भी सूरत में गाड़ी स्टार्ट नहीं होगी।-मैिरज होम के बाहर गाड़ी खड़ी करते समय भी ऐसा कर सकते हैं। सीओ हरीपर्वत (असीम चौधरी)रखना होगा गार्ड-ऑिफस, मार्केट, हॉिस्पटल, मैिरज होम वाले अपने यहाँ सुरक्षा गार्ड रखें।-लोग मैिरज होम बुक कराने से पहले पूछ लें सुरक्षा गार्ड है या नहीं।-ग्राहक ऐसे बाजारों में न जाएँ जहाँ पार्किंग में गार्ड खड़ा नहीं हो।-चोरी की सूचना तत्काल 100 नंबर पर दें। आस-पास खुद भी तलाशें।-सूचना देते समय गाड़ी का रंग, नंबर और कितना पेट्रोल था यह बताएँ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: हर आठ घंटे में एक वाहन चोरी