DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुसलमानों को धर्म के आधार पर आरक्षण कबूल नहीं: महाज जमीयत

िहन्दुस्तान प्रितिनिधपटना। ऑल इिंडया पसमांदा मुिस्लम महाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष व िवधान पार्षद सलीम परवेज ने कहा कि मुसलमानों को धर्म के आधार पर 15 फीसदी आरक्षण का महाज िवरोध करती है। उन्होंने कहा कि यह किसी भी हालत में कबूल नहीं है। शुक्रवार को आयोिजत एक संवाददाता सम्मेलन में पार्षद ने जमीयत उलमा िहन्द पर िनशाना साधते हुए कहा कि जमीयत देश में सांप्रदाियक ताकतों को बढ़ावा देने में जुटी है। इसका सबूत है कि गुजरात दंगों की तस्वीर िलए उनका घूमना। उन्होंने कहा कि मुसलमानों के 85 प्रितिशत िपछड़े तबकों को पहले से ही अत्यंत िपछड़ा वर्ग श्रेणी में आरक्षण प्राप्त है। वहीं महाज के उपाध्यक्ष इर्शादुल हक व मुमताज अंसारी ने कहा कि जमीयत शैिक्षक संस्थानों में आरक्षण की बात करती है जबकि अल्पसंख्यक शैिक्षक संस्थान में ओबीसी मुसलमानों को आरक्षण नहीं िमलता है। इन लोगों ने कहा कि दरअसल जमीयत आरक्षण के स्वरूप को नष्ट करना चाहती है। महासिचव उसमान हलालखोर, प्रदेश अध्यक्ष िहशामुद्दीन अंसारी, प्रदेश महासिचव डा. नूरहसन आजाद ने जमीयत प्रमुख महमुद मदनी पर आरोप लगाया कि उन्होंने संसद में मिहला आरक्षण िबल के समर्थन में वोट िदया पर पटना में आयोिजत आम सभा में उन्होंने इसमें मुिस्लम मिहलाओं को शािमल करने की वकालत की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मुसलमानों को धर्म के आधार पर आरक्षण कबूल नहीं: महाज जमीयत