DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘महाट्रैफिक’ के लिए मेगा तैयारी

अतुल उपाध्यायपटना(हि.ब्यू.)। महानगर की शक्ल अख्तियार कर रहे पटना की ट्रैफिक भी महानगरों के रास्ते पर है। सडक़ पर गाडिय़ों की अंतहीन कतार है। सडक़ें चौड़ी हो रही हैं। लेकिन चंद महीने बाद ही उनकी चौड़ाई कम दिखने लगती है। शहर को किसी ऊंची इमारत से निहारने पर सडक़ों पर गाडिय़ों का सैलाब जैसा नजारा है। टू-व्हीलर, थ्री व्हीलर, कार-जीप, बस, रिक्शा और साइकिल। आने वाले दिनों में यह दबाव और बढ़ेगा और इन्हें नियंत्रित करने की जिम्मेवारी शहर की पुलिस पर होगी। राज्य सरकार इस खतरे को भांप रही है। लिहाजा ‘महाट्रैफिक’ को नियंत्रित करने के लिए मेगा योजना तैयार की जा रही है। पटना शहर और इंट्री प्वाइंट्स को मॉनिटर करने के लिए दो और ट्रॉफिक थानों को खोलने पर विचार किया जा रहा है। एक थाना बाइपास पर होगा और दूसरा सुगनामोड़ के पास। पटना शहर के लिए फिलहाल एक ही ट्रैफिक थाना है। ट्रैफिक की गंभीर होती समस्या से निपटने के लिए ‘थ्री ई’योजना बनायी जा रही है। थ्री ई माने-एजुकेशन, इंजीनियरिंग और इंफोर्समेंट। इस योजना का मकसद राजधानी की ट्रैफिक व्यवस्था से लेकर पार्किंग व्यवस्था तक को सिस्टम में लाना है। इसके अमल में आते ही जहां-तहां गाडिम्यों को पार्क करने की ‘आजादी’ नहीं रह जाएगी। इसमें पटना क्षेत्रीय विकास प्राधिकार, नगर निगम और पटना पुलिस मिलकर काम करेंगे। इसके अलावा पटना ट्रैफिक पुलिस में काम कर रहे पुलिसकर्मियों में कुछ को जल्द ही ट्रेनिंग के लिए दिल्ली भेजा जाएगा। योजना है कि दिल्ली के पैटर्न को अडॉप्ट किया जाए। ट्रैफिक पुलिस की क्षमता को बढ़ाने के लिए मुजफ्फरपुर, दरभंगा और भागलपुर जोन से 50-50 जवानों को पटना में लगाया गया है। पटना में ट्रैफिक पुलिस की क्षमता करीब 600 की है जिनमें लगभग 350 पद खाली ही है। इस कमी को दूर करने के लिए होमगार्ड के 550 जवानों को लगाया गया है और इतने ही और जवानों को लगाया जाएगा। ट्रैफिक सिस्टम को दुरुस्त करने के लिए क्या हो रहा है:1.बाइपास पर और सुगना मोड़ के पास एक-एक ट्रैफिक थाना का प्रस्ताव2.पटना पुलिस के जवान ट्रैफिक सिस्टम की ट्रेनिंग के लिए दिल्ली जाएंगे3.थ्री-ई सिस्टम लागू होगी-एजुकेशन, इंजीनियरिंग एण्ड इंफोर्समेंट4.दूसरे पुलिस जोन से बुलाए गए डेढ़ सौ जवान5.करीब 500 होमगार्ड के जवान और लगाए जाएंगे6.जवानों के लिए खरीदे गए चार लाख के हेलमेट और जैकेट(रात के समय वाहन चालकों को दिखायी देगा)7.ब्रेथ एनलाइजर और स्पीड पर नियंत्रण के लिए स्पीड गन मशीन की खरीद जल्दबिहार में पिछले पांच वर्षो में तेल की खपत टीएमटी मेंवित्तीय वर्ष पेट्रोल खपत डीजल खपत 04-05 117 1011 05-06 126 966 06-07 136 102507-08 155 118908-09 185 142509-10 208 1504 फरवरी 2010 तक ग्रोथ रेटवित्तीय वर्ष पेट्रोल(प्रतिशत) डीजल(प्रतिशत)05-06 7.9 -4.4 06-07 7.8 6.1 07-08 13.8 15.9 08-09 19.4 19.8 09-10 फरवरी तक 26.5 17.7ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ‘महाट्रैफिक’ के लिए मेगा तैयारी