DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

काफी मशक्कत के बाद पकड़ा गया था जााहिद उर्फ कमांडो

िवनायक िवजेतापटना। वर्ष 1998 में सहरसा में डीएसपी सतपाल िसंह की हत्या करने के आरोप में गुरुवार को मौत की सजा पाने वाले जािहद उर्फ कमांडो घटना के दस वर्ष बाद 26 िसतम्बर 2008 को काफी मशक्कत से पकड़ा गया था। हालांकि घटना के तीन वर्ष बाद वह एक बार पकड़ा भी गया पर सहरसा जेल से फरार हो गया था। इस शाितर अपराधी ने डीएसपी की हत्या के कुछ ही वर्ष बाद एक मामले में हुए रोड जाम को हटाने गए सीआरपीएफ के दो जवानों की गोली मार हत्या कर दी थी और उनकी दो एसएलआर राइफलें लूटकर सनसनी फैला दी थी।पुिलस को अपना सबसे बड़ा दुश्मन समझने वाला और पलक झपकते ही पुिलसकिर्मयों की हत्या कर देने वाले जािहद उर्फ कमांडो को पुिलस ने बड़े ही नाटकीय ढंग से नोएडा में दबोचा था। एसटीएफ के चिर्चत डीएसपी गोपाल पासवान के नेतृत्व में सब-इंस्पेक्टर भास्कर व कमलेश शर्मा तथा कमांडो िदलीप की टीम इसे नोएडा से िगरफ्तार कर पटना लायी थी। हालांकि तब एसटीएफ ने इसको पटना से ही िगरफ्तार करने का दावा किया था। बताया जाता है कि तब पटना से गई एसटीएफ टीम ने िदल्ली या नोएडा पुिलस के सहयोग के बगैर ही उसे दबोचा था। नोएडा और िदल्ली के इलाके में एक िबल्डर के रूप में पहचान बना चुका जािहद अपनी िगरफ्तारी के समय लगभग ढाई करोड़ के ठेके का काम करा रहा था। एसटीएफ की टीम प्रापर्टी डीलर के रूप में इसके पास पहुंची और जबतक वह कुछ समझता, उसे पटना से ही लाई गाड़ी में डाल िदया गया और सड़क मार्ग से ही सीधे पटना ले आया गया। सहरसाजिंले के बनवा इटहरी ओपी अंतर्गत कुसमी गांव िनवासी नुरूल होदा के इस अपराधी पुत्र पर िबहार के अलावा राजस्थान में भी कई मामले दर्ज हैं। जािहद वर्ष 2001 में पकड़ा भी गया था पर अगले ही वर्ष यह सहरसा जेल में सुरंग बना उसके रास्ते फरार हो गया था। बहरहाल सहरसा न्यायालय ने इस शाितर अपराधी को गुरुवार को मौत की सजा सुना दी पर इसके आपरािधक इितहास में एक रोचक तथ्य यह है कि इस अपराधी ने शुक्रवार को ही डीएसपी सतपाल िसंह की हत्या की थी, वर्ष दो हजार एक में शुक्रवार को ही यह पहली बार पकड़ा गया। 2002 में शुक्रवार के िदन ही यह जेल से फरार हुआ और जब 26 िसतम्बर 2008 को एसटीएफ द्वारा पकड़ा गया तब भी शुक्रवार का ही िदन था और 2 अप्रैल से जब उसकी सजा के िदन की िगनती शुरू होगी तो वह िदन भी शुक्रवार ही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: काफी मशक्कत के बाद पकड़ा गया था जााहिद उर्फ कमांडो